लड़की के पिता की हो गई थी मौत, तो लड़के ने किया शादी का वादा, और घर में आकर...

लड़के ने लड़की के मोबाइल पर भेजा मैसेज और फिर...

फर्रुखाबाद. शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण करने और पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज न करने से नाराज युवती ने देर रात शहर कोतवाली पहुंचकर शरीर पर केरोसिन डाल लिया और आग लगाने का प्रयास किया। इस दौरान नजर पड़ने पर एक सिपाही ने उससे माचिस छीन ली। पुलिस ने युवती को हिरासत में लेकर लोहिया अस्पताल में मेडिकल परीक्षण कराया गया है। युवती का आरोप है कि शारीरिक शोषण करने वाले आरोपी युवक को पुलिस ने तीन दिन बैठाने के बाद कोतवाली से छोड़ दिया।

 

शादी की दिया था झांसा

शहर कोतवाली के मोहल्ला चोबदारान निवासी 30 वर्षीय युवती पिता की मौत के बाद घर में ही छोटी दुकान चलाती है। युवती ने चार दिन पहले पुलिस को प्रार्थना पत्र देकर आरोप लगाया था कि मोहल्ला पलरिया निवासी युवक ने उसे ढाई माह पूर्व शादी करने का झांसा दिया। मोबाइल पर कई मैसेज भी भेजे। इसके बाद उसने करीब आठ बार उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। बाद में पता चला कि युवक शादीशुदा है और उसकी सेठ गली में दुकान है। युवक ने शादी करने से भी इन्कार कर दिया। उसने युवक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने को पुलिस को तहरीर दी। पुलिस आरोपी युवक को कोतवाली बुला लायी थी। तीन दिन बैठाने के बाद शाम उसे छोड़ दिया गया। इसके बाद उसने एसपी व अन्य अधिकारियों से भी गुहार लगाई, लेकिन पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। इससे परेशान होकर वह कोतवाली में खुदकशी करने पहुंची थी। केरोसिन डालकर आग लगा रही थी, तभी सिपाही ने उसे पकड़ लिया।

 

फरियाद का नहीं निकला कोई हल

पीड़िता ने एसपी समेत आलाधिकारियों से फरियाद की लेकिन कोई हल नहीं निकला। आजिज आकर पीड़िता ने कोतवाली के सामने आत्मदाह का प्रयास किया। कोतवाली सदर में मौजूद कुछ पुलिसकर्मियों ने महिला की केरोसिन की बोतल छीन कर उसको बचा तो लिया लेकिन अब रेप पीड़िता पर फर्रुखाबाद पुलिस की तालिबानी तलवार लटकी हुई है और उसको न्याय की बजाय जेल भिजवाने की तैयारी चल रही है। पूरे घटनाक्रम के बाद पुलिस का कोई भी अधिकारी कुछ भी बोलने के लिए सामने नहीं आ रहा है। वहीं महिला का जिला अस्पताल लिखिया में मेडिकल परिक्षण कराकर उसको भर्ती करा दिया गया है।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned