उर्मिला द्वारा दर्ज कराई गई करोड़ों की भूमि हुई मूतबल्ली के नाम, लाखों रुपए खर्च केेेेेे बाद भी रह गए खाली हांथ

- भाजपा सरकार में डीएम मानवेंद्र सिंह के पास शिकायत आने के बाद मामले की गंभीरता से हुई जांच
- सपा सरकार में सपा मुखिया मुलायम सिंह की बहन के नाम से जानी जाती थी उर्मिला राजपूत

By: Neeraj Patel

Published: 28 Oct 2020, 08:01 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
फर्रुखाबाद. सपा सरकार में पूर्व विधायक उर्मिला राजपूत ने बक्फ बोर्ड की करोड़ों की संपत्ति पर अवैध कब्जा कर फर्जी तरीके से वसीयत कराकर अपने नाम दर्ज करा ली थी और अपना डिग्री कॉलेज स्थापित किया था। जिलाधिकारी के मामला संज्ञान में आने के बाद संपत्ति की जांच कराई गई। जिसके बाद अपर उपजिलाधिकारी नरेंद्र सिंह ने कॉलेज की संपूर्ण भूमि मुतबल्ली के नाम दर्ज करा दी गई है।

थाना मऊदरवाजा में बेशकीमती जमीन को सन 2004 में पूर्व विधायक उर्मिला राजपूत ने अपने नाम दर्ज कराने के बाद वहां पर लॉ कॉलेज की स्थापना करा दी थी। भाजपा सरकार में डीएम मानवेंद्र सिंह के पास शिकायत आने के बाद मामले को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी ने उक्त प्रकरण की जांच कराई जिसमें की उर्मिला राजपूत को भूमाफिया घोषित करने के बाद उक्त भूमि को जमीन मुतबल्ली के नाम दर्ज कराने के आदेश दिए गए था, जिसके चलते अपर उपजिलाधिकारी नरेंद्र सिंह ने आदेश पारित कर दिया है।

सपा सरकार में सपा मुखिया मुलायम सिंह की बहन के नाम से जानी जाती थी। उसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बुआ के नाम से बुलाई जाती थी। करोड़ों की संपत्ति पर अवैध तरीके से कब्जा की गई भूमि को बक्फ बोर्ड के मुतबल्ली के नाम दर्ज कर दी है, जिससे कि जिले के अन्य भू माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ है। इस जमीन पर उन्होंने ने लाखों रुपए खर्च करने के बाद भी उनके हाथों में कुछ नहीं बचा है।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned