ससुराल में फाँसी लगाकर दी जान, सामने आई ये बड़ी वजह

ससुराल में फाँसी लगाकर दी जान, सामने आई ये बड़ी वजह

Akansha Singh | Publish: Nov, 15 2017 11:47:53 AM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

युवक ने सास के मकान में फांसी लगाकर जान दे दी।

फर्रुखाबाद. युवक ने सास के मकान में फांसी लगाकर जान दे दी। घटना का खुलासा तीसरे दिन हुआ। जिसके बाद परिवार में कोहराम मच गया। सनी उर्फ शत्रुघ्न सिंह चौहान जनपद औरैया के बेला बिधूना निवासी रमेश सिंह का 26 वर्षीय पुत्र था। सनी के परिजन कल्यानपुर कानपुर में किराए पर रहते हैं। सनी बीते एक वर्ष से नगर के मोहल्ला सुनहरी मस्जिद के निकट रहने वाली कमला देवी जाटव के मकान में रहता था।

सनी ड्राइवरी कर गुजारा करता था। कमला देवी की बेटी कविता से सनी का विवाह हुआ था। बीते 3 दिन पूर्व सनी के छोटे भाई का विवाह शनि की सा-ली से हुआ है। कमला देवी के नाम थाना मऊदरवाजा के ग्राम हैबतपुर गढ़िया स्थित काशीराम कालौनी के ब्लॉक नंबर 23 में 361 नंबर का आवास आवंटित है। कमला देवी ने यह आवास पुत्री व दामाद सनी को रहने के लिए दे दिया। बताया गया कि शादी के दौरान कोई बात होने पर शनि बाइक लेकर वहां से काशीराम कालौनी संजू आवाज पहुंचा।

सनी ने बाइक नीचे खड़ी कर दी और पड़ोसी से चाबी लेकर आवास के अंदर घुस गया। उधर ससुराल वाले सनी को तलाश करते रहे आज शाम कमला देवी का पुत्र कॉलोनी स्थित आवास पर गया तो अंदर से कमरा बंद होने पर खुलवाने के लिए काफी देर तक खटखटाता रहा। संदेह होने पर युवक ने पड़ोसियों से पूछा कि कमरे के अंदर कौन है। युवक ने बालकनी की खिड़की से कमरे के अंदर जाकर देखा तो वहां सनी अंदर वाले कमरे में पंखे से लटका दिखाई पड़ा।

युवक ने तुरंत ही पड़ोसियों के साथ ही परिजनों व पुलिस को जानकारी दी। सूचना मिलने पर थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पड़ोसियों ने बताया कि यह बाइक 3 दिन से यहां खड़ी है। युवक ने बताया की जीजा सनी 11 नवंबर की रात 2 बजे नाराज हो कर चले आए थे। तभी से उनको तलाश किया जा रहा है। घटना की जानकारी मिलने पर कमला उनकी बेटी कविता परिजन मौके पर पहुंचे।

Ad Block is Banned