गैंगरेप मामले में उप मंडल अभियंता व एसडीओ सहित तीनों आरोपियों को जेल

गैंगरेप मामले में उप मंडल अभियंता व एसडीओ सहित तीनों आरोपियों को जेल
Gangrepe

Shatrudhan Gupta | Updated: 18 May 2017, 11:25:00 PM (IST) lucknow

नौकरानी के साथ गैंगरेप कर उसका अश्लील वीडियो बनाने के मामले में पीडि़त महिला ने उप मंडल अभियंता व एसडीओ सहित तीन लोगों के खिलाफ महिला थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी थी। 

फर्रुखाबाद. नौकरानी के साथ गैंगरेप कर उसका अश्लील वीडियो बनाने के मामले में पीडि़त महिला ने उप मंडल अभियंता व एसडीओ सहित तीन लोगों के खिलाफ महिला थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी थी। पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर गुरुवार को कड़ी सुरक्षा में न्यायालय में पेश किया। न्यायाधीश ने एक जून तक के लिए न्यायिक अभिरक्षा में  आरोपियों को जेल भेज दिया। इस दौरान न्यायालय परिसर में वादकारी व वकीलों की भीड़ लगी रही। यह मामला चर्चा का विषय बना रहा।

यह भी पढ़ें... सपा के पूर्व सभासद की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या, देखें वीडियो...

पुलिस ने तीनों आरोपियों को बुधवार शाम ही गिरफ्तार कर लिया था। गुरुवार को तीनों को न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजने के आदेश दिए। न्यायालय में आरोपियों की पेशी के दौरान भारी संख्या में वकीलों व वादकारियों की भीड़ लगी रही। भीड़ का आक्रोश को देखते हुए आरोपियों की पेशी के दौरान कड़ी सुरक्षा की व्यवस्था की गई।


मालूम हो कि बेवर रोड भोलेपुर निवासी युवती ने न्यू इंदिरा कॉलोनी निवासी दूरसंचार विभाग (बीएसएलएल) के एसडीओ अमर सिंह राठौर, जनपद मैनपुरी के मदार चौराहा निवासी विभागीय उप मंडल अभियंता (योजना एवं प्रशासन) अजय प्रताप और हरदोई के सुभाष नगर निवासी विभागीय संविदा कर्मी योगेंद्र ङ्क्षसह के खिलाफ  घरेलू काम करने के दौरान जबरिया दुष्कर्म करने व उसकी अश्लील वीडियो क्लिप बनाकर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया था। पीडि़ता की शिकायत पर पुलिस ने तीनों आरोपियों को पकड़ा था।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned