कर्ज माफी के लिए किसान थे परेशान, मंत्री जी एसी और कूलर की हवा खाने में थे मस्त

कर्ज माफी के लिए किसान थे परेशान, मंत्री जी एसी और कूलर की हवा खाने में थे मस्त

By: Ruchi Sharma

Published: 11 Sep 2017, 12:40 PM IST

फर्रुखाबाद. फर्रुखाबाद में किसान ऋण मोचक योजना के कार्यक्रम के दौरान कार्यक्रम स्थल पर जिला प्रशासन की एक बड़ी लापरवाही दिखी। वही दूसरी तरफ मंत्री चेतन सिंह चौहान को खुश करने के जिले की नव आगंतुक जिलाधिकारी मोनिका रानी ने मंत्री जी के सम्मान के लिए रेड कॉरपेट के साथ-साथ मंच को वीवीआईपी व्यावस्थाअों से मंच को लैश कर दिया । जिन किसानों के लिए प्रोग्राम आयोजित किया गया उन्ही किसानों को बिना पंखा और भोजन पानी के सुबह से बैठा दिया गया।

जब इस वीआईपी कल्चर को लेकर मंत्री जी से सवाल किया गया तो मंत्री के साथ मौजूद विधायक नागेन्द्र सिंह मीडिया को बरगलाने लगे और पाजिटिव खबरों की नसीहत दे दी। लेकिन सवाल यह है मंत्री और विधायकों को वीआईपी कल्चर का मोह अभी नहीं छोड़ पा रहा है। 

वहीं जिला प्रशासन की व्यावस्थाअों की भी पोल मंत्री के आने के महेज दस मिनट पहले ही खुल गयी और मुख्या मंच के पास मौजूद टेंट हवा में उड़ गया।  टेंट उड़ने से जिला प्रशासन के एक तरफ हाथ पाओ फूल गए और जल्द टेंट को खड़ा करवा दिया गया।

 

जिन किसानों का लोन माफ किया गया है उनको प्रमाण पत्र देने के लिए हर प्रकार से साधन उपलब्ध कराकर बुलाया गया था। उनको पांडाल में बैठाया गया। परन्तु उनके लिए जो पंखे लगाए गए उनकी हवा उनके शरीरों तक नही पहुंच रही थी। जो महिलाएं अपने साथ अपने छोटे से बच्चे को लेकर कार्यक्रम में पहुंची थी वह गर्मी के कारण अपने बच्चे के ऊपर गत्ते से हवा करती नजर आ रही थी।

 

दूसरी तरफ बुजुर्ग किसान अपने गमछे से हवा कर रहे थे । लोगों की माने तो किसान अपना पसीना खेतों में काम करके निकालता है। प्रमाण पत्र के चक्कर में बिना मेहनत किये निकल रहा था। लेकिन प्रभारी मंत्री के लिए रास्ते से लेकर जहां सरकारी स्टाल लगाए गए थे सभी जगहों पर कॉरपेट बिछाई गई थी। जिससे मंत्री जी के पैरों में धूल न लग सके। जब वह मंच पर पहुंचे तो उनको गर्मी का एहसास न हो इसके लिए मंच के दोनों तरफ एसी के साथ दो कूलर भी लगाए थे। उधर गरीब किसान गर्मी में बेहाल हो रहा था मंत्री एसी में बैठकर हवा खा रहे थे ।

BJP
Show More
Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned