scriptPatrika Exclusive Interview:फतेहपुर में मेडिकल कॉलेज के लिए जमीन तक नही दिया था अखिलेश यादव ने–साध्वी निरंजन ज्योति | Patrika News
फतेहपुर

Patrika Exclusive Interview:फतेहपुर में मेडिकल कॉलेज के लिए जमीन तक नही दिया था अखिलेश यादव ने–साध्वी निरंजन ज्योति

Lok Sabha Election 2024: फतेहपुर लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद एवं लोकसभा प्रत्याशी साध्वी निरंजन ज्योति ने पत्रिका उत्तर प्रदेश से एक्सक्लूसिव वार्ता कर अपने कार्यकाल की कई प्रमुख बातों को बताया। इसी दौरान अखिलेश यादव का नाम लेते ही आखिर किस बात पर वो भड़क गईं आइए जाने…

फतेहपुरMay 18, 2024 / 10:36 am

Pravin Kumar

Patrika Exclusive Interview Sadhvi Niranjan Jyoti

फतेहपुर लोकसभा सीट से बीजेपी की उम्मीदवार साध्वी निरंजन ज्योति ने Exclusive बातचीत की।

Patrika Exclusive Interview Sadhvi Niranjan Jyoti: पांचवें चरण का मतदान 20 मई को होगा। पांचवें चरण के मतदान में उत्तर प्रदेश की 14 लोकसभा सीटें शमिल हैं।

इन 14 लोकसभा सीटों में एक सीट फतेहपुर लोकसभा सीट भी है, जहां से बीजेपी ने मौजूदा सांसद साध्वी निरंजन ज्योति, तो वहीं समाजवादी पार्टी ने कुर्मी समाज से तालुक रखने वाले समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल को चुनावी मैदान में उतारा है।
रिपोर्टर के सवाल पर भड़की साध्वी निरंजन ज्योति

कल फतेहपुर स्थित अपने आवास पर केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने पत्रिका उत्तर प्रदेश से एक्सक्लूसिव वार्ता की। इस वार्ता के दौरान रिपोर्टर ने पूछा कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव का कहना हैं की फतेहपुर जिले में जो भी विकास हुआ हैं वो सब सपा सरकार में हुआ हैं।
रिपोर्टर के इस सवाल पर साध्वी निरंजन ज्योति भड़क गई, और उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ने जिस नेता को उम्मीदवार बनाया है वह 18 साल तक एमएलसी रहे हैं और फतेहपुर जिले के ही हैं, लेकिन जिले में उनके नाम का किसी सड़क किनारे कहीं पर भी एक पत्थर तक लगा नहीं मिलेगा।
साध्वी निरंजन ज्योति ने बताया कि जब वह 2012 में हमीरपुर सदर से विधायक बनी। फिर इसके बाद पार्टी ने फैसला लेकर उनको वर्ष 2014 में फतेहपुर लोकसभा सीट से चुनावी मैदान में उतारा, और वो एक लाख से अधिक वोटो से चुनाव जीतकर पहली बार लोकसभा पहुंची।
अखिलेश यादव ने जमीन तक नही दी थी

वर्ष 2014 में प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार थी। साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा मैंने वर्ष 2015 में केन्द्र सरकार से फतेहपुर जनपद के लोगों के लिए एक मेडिकल कॉलेज पास कराया था। मेडिकल कॉलेज बनवाने के लिए जमीन की आवश्यकता थी। मैंने जमीन के लिए तब वर्ष 2015 में उत्तर प्रदेश सरकार में मुख्यमंत्री रहे अखिलेश यादव से मिलने पहुंची। अखिलेश यादव ने मुझसे बहुत अच्छे से मुलाकात कि उनकी बातों से मैं प्रभावित हुई। मुझको लगा की मेडिकल कॉलेज बनवाने के लिए जमीन मिल जायेगी।
क्यों कि उन्होंने मुझको विश्वास दिलाया कि हम आपको जमीन देंगे मैं बहुत प्रसन्न हुई फिर मैंने कुछ दिनों तक इंतजार किया। जब जमीन नहीं मिली। तब मैं फिर दुबारा मिलने पहुंची उसके बाद अखिलेश यादव ने फिर मुझे आश्वासन दिया।
अखिलेश यादव ने फतेहपुर की जनता को दिया है धोका

तमाम प्रयासों के बाद नतीजा ये था की मुझे समाजवादी पार्टी की सरकार में फतेहपुर में मेडिकल कॉलेज बनाने के लिए जमीन तक आवंटित नहीं हुई थी। फिर जब प्रदेश में योगी आदित्यनाथ जी की सरकार बनी तो उन्होंने जमीन दिया। जिस पर आज फतेहपुर जनता के खुशहाली के लिए मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार हुआ है।

Hindi News/ Fatehpur / Patrika Exclusive Interview:फतेहपुर में मेडिकल कॉलेज के लिए जमीन तक नही दिया था अखिलेश यादव ने–साध्वी निरंजन ज्योति

ट्रेंडिंग वीडियो