फतेहपुर में आक्सीजन की कमी से दो नवजात बच्चों की मौत

फतेहपुर में आक्सीजन की कमी से दो नवजात बच्चों की मौत
फतेहपुर में आक्सीजन की कमी से दो नवजात बच्चों की मौत

Ashish Kumar Shukla | Updated: 04 Jun 2019, 08:45:23 PM (IST) Fatehpur, Fatehpur, Uttar Pradesh, India

सीएचसी प्रभारी और स्टाफ नर्स इस पूरे मामले पर एक-दूसरे के ऊपर आरोप लगाने में जुटे हैं

फतेहपुर. एक बड़ी लापरवाही के चलते सीएचसी अमौली में आक्सीजन की कमी से दो बच्चों की हालत बिगड़ गई। परिजनों की माने तो अस्पताल में अॉक्सीजन सिलेंडर ना होने की वजह से नवजात की मौत हो गई। परिजनों ने लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा काटा और कार्रवाई की मांग को लेकर अस्पताल परिसर में ही धरने पर बैठ गए। वहीं जिले के जिम्मेदार अधिकारी पूरे मामले में बात करने से बच रहे हैं l

बता दें कि अमौली के कुंदेरामपुर के सुरेन्द्र की पत्नी शुभा देवी को प्रसव पीड़ा पर सुबह छह बजे प्रसव केन्द्र में भर्ती किया गया था। करीब आधा घंटे बाद शुभा ने शिशु को जन्म दिया। बताते हैं कि प्रसव के कुछ देर बाद ही शिशु की तबियत बिगड़ने लगी। आक्सीजन मास्क लगाती लेकिन सिलेंडर खाली था। और नवजात की सांसे थम गईं। इस पर परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया और प्रभारी को बुलाने की मांग पर अड़ गए।

प्रभारी के आने पर उन्होंने शव ले जाने की बात कही लेकिन उन्होंने शव ले जाने से इनकार करते हुए मौके पर बैठ कर कार्रवाई की मांग पर अड़े रहे। वही दूसरे मामले में आधी रात भर्ती हुई महिला ने शिशु को जन्म दिया। बताते ही प्रसव के कुछ ही देर बाद नवजात की सांसे थम गई। शिशु की मौत पर परिजनों ने लापरवाही का आरोप लगाते हुए नाराजगी जताई। वहीं स्टाफ नर्स सध्या सचान का कहना है कि बच्चों की मौत आक्सीजन की कमी से हुई है। वहीं सीएचसी प्रभारी और स्टाफ नर्स इस पूरे मामले पर एक-दूसरे के ऊपर आरोप लगाने में जुटे हैं l

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned