Jivitpurtrika vrat: जितिया व्रत, जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और कथा

Jivitpurtrika vrat: जितिया व्रत, जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और कथा

Tanvi Sharma

September, 2102:40 PM

अश्विन माह के कृष्ण पक्ष की सप्तमी से नवमी तक जितिया व्रत किया जाता है। इस बार जितिया व्रत 22 सितंबर को रखा जाएगा। मान्यताओं के अनुसार जितिया व्रत महिलाओं के लिए बहुत अधिक महत्व रखता है। इसे जीवित्पुत्रिका व्रत भी कहा जाता है। जिसे संतान की उन्नती व सलामती के लिए रखा जाता है। उत्तरप्रदेश और बिहार में व्रत अधिक महत्व होता है।

 

jivit putrika vrat 2019

व्रत तिथि और शुभ मुहूर्त:

अष्टमी तिथि प्रारंभ: 21 सितंबर 2019 को रात 08 बजकर 21 मिनट से
अष्टमी तिथि समाप्त: 22 सितंबर 2018 को रात 07 बजकर 50 मिनट तक

जीवित्पुत्रिका पूजा विधि

जीवित्पुत्रिका व्रत के तीन दिन पहले से इस व्रत की तैयारी कि जाती है। व्रत को तीन दिन तक रखा जाता है। पहले दिन महिलाएं स्नान करने के बाद भोजन करती हैं और उसके बाद दिनभर कुछ नहीं खाती हैं। व्रत के दूसरा दिन अष्टमी को मुख्य दिन होता है। जिसमें महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं। व्रत के तीसरे दिन पारण करने के बाद भोजन ग्रहण किया जाता है।

 

jivit_putrika1.jpg

जीवित्पुत्रिका व्रत-कथा

धार्मिक कथाओं के अनुसार जितिया व्रत का महत्व महाभारत काल से है। जिसके अनुसार एक बार अश्वत्थामा पांडवों के शिविर में अपने पिता की मौत का बदला लेने घुस गया। शिविर के अंदर पांच लोग सो रहे थें। अश्वत्थामा ने उन्हें पांडव समझकर मार दिया, परंतु वे द्रोपदी की पांच संतानें थीं। फिर अुर्जन ने अश्वत्थामा को बंदी बनाकर उसकी दिव्य मणि ले ली।

अश्वत्थामा ने फिर से बदला लेने के लिए अभिमन्यु की पत्नी उत्तरा के गर्भ में पल रहे बच्चें को मारने का प्रयास किया और उसने ब्रह्मास्त्र से उत्तरा के गर्भ को नष्ट कर दिया। तब भगवान श्रीकृष्ण ने उत्तरा की अजन्मी संतान को फिर से जीवित कर दिया। गर्भ में मरने के बाद जीवित होने के कारण उस बच्चे का नाम जीवित्पुत्रिका रखा गया। यही कारण है की जीवित्पुत्रिका व्रत रखने से संतान की उम्र लंबी होती है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned