मकर संक्रांति पर बन रहा बुधादित्य योग, विशेष फल के लिये इस समय करें दान-पुण्य मिलेगा

मकर संक्रांति पर बन रहा बुधादित्य योग

By: Tanvi

Updated: 06 Jan 2020, 05:23 PM IST

मकर संक्रांति का पर्व हिंदूओं के लिये बहुत ही महत्वपूर्ण पर्व माना जाता है। इस दिन दान-पुण्य का विशेष महत्व माना जाता है। शास्त्रों के अनुसार इस दिन सूर्य उत्तरायण होते हैं और मकर राशि में प्रवेश करते हैं। इस बार सूर्य और बुध का मकर राशि में बहुत ही शुभ योग बन रहा है जिसे बुधादित्य योग कहते हैं।

 

पढ़ें ये खबर- माघ मास में स्नान, दान से मिलता है स्वर्गलोक, जानें किस समय स्नान और क्या दान करें

 

ज्योतिषशास्त्र में इस योग को बहुत ही शुभ माना जाता है। इसके अलावा उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र होने से वर्धमान नाम का एक शुभ योग और बन रहा है। इस बार मकर संक्रांति 15 जनवरी, बुधवार को मनाई जाएगी।

मकर संक्रांति पर बन रहा बुधादित्य योग, विशेष फल के लिये इस समय करें दान-पुण्य मिलेगा

सूर्य कर्क से धनु राशि तक जब भ्रमण करता है तो दक्षिणायन सूर्य होता है। मकर संक्रांति से देवताओं के दिन और दैत्यों की रात शुरू हो जाती है। इस वजह से विवाह, गृह प्रवेश, यज्ञोपवीत, मूर्ति प्रतिष्ठा करने जैसे शुभ कार्य संक्रांति के बाद शुरू हो जाते हैं।

 

मकर संक्रांति पर बन रहा बुधादित्य योग, विशेष फल के लिये इस समय करें दान-पुण्य मिलेगा

 

मकर संक्रांति पर दान का महत्व

15 जनवरी 2020 को मकर संक्रांति का पर्व है और इस दिन सूर्य को अर्घ्य देने के साथ-साथ दान भी किया जाता है। मकर संक्रांति के दिन विशेष पुण्यकाल 8 बजकर 14 मिनट से सूर्यास्त तक रहेगा। इस दौरान आप दान पुण्य तीर्थ स्नान, दान, तुलादान, गौदान, स्वर्ण दान, जाप, हवन कर सकते हैं। इसका विशेष महत्व माना जाता है। इसके साथ ही मकर संक्रांति के दिन गरीबों को कंबल, ब्राह्मणों को खिचड़ी व तिल गुड़ का दान करने से भी व्यक्ति को विशेष फल की प्राप्ति हो सकती है।

 

मकर संक्रांति पर बन रहा बुधादित्य योग, विशेष फल के लिये इस समय करें दान-पुण्य मिलेगा

मकर संक्रांति का फल

मकर संक्रांति का पर्व सर्व सुख प्रदान करने वाला माना जाता है। इस दिन दान-पुण्य करने से व्यक्ति को विशेष फल की प्राप्ति होती है। इस बार वाहन गर्दभ होगा और इस कारण निर्माण गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी, दंड में प्रबलता बढ़ेगी। इसके साथ ही पांडुर वस्त्र धारण करने से महंगाई में वृद्धि होगी। लेकिन ज्योतिषाचार्यों के अनुसार मकर संक्रांति के दिन केतकी के फूल से शिव आराधना करने से सुख की प्राप्ति होगी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned