पितृ मोक्ष अमावस्या और शनिवार का शुभ संयोग, इस जरूर करें ये 5 उपाय

इस शुभ संयोग में लाभ प्राप्त करने के लिए करें ये विशेष उपाय

Tanvi Sharma

September, 2701:19 PM

पितृ मोक्ष अमावस्या या सर्व पितृ अमावस्या का पितृ पक्ष में बहुत अधित महत्व माना जाता है। इस अमावस्या पर सभी पितरों का प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से श्राद्ध किया जाता है। इस बार पितृमोक्ष अमावस्या शनिवार के दिन पड़ रही है और शनिवार के दिन अमावस्या का बहुत अधिक महत्व माना जाता है। 28 सितंबर शनिवार के दिन यह अद्भुत संयोग बन रहा है। मान्यताओं के अनुसार इस दिन पतरों से मांगी हर मुराद पूरी होगी।

 

pitru moskha amavasya

पंडित रमाकांत मिश्रा के अनुसार शनिवार के दिन अमावस्या का अद्भुत संयोग करीब 20 सालों बाद बना है। वहीं सनातन धर्म के अनुसार शनिवार के दिन अमावस्या को शनिश्चरी अमावस्या कहा जाता है। शनिश्चरी अमावस्या के दिन शनि दोषों से मुक्ति के लिये काफी उपाय किये जाते हैं। इस बार शनि दोषों व पितरों की शांति दोनों के लिये बहुत शुभ समय है। पितृमोक्ष अमावस्या और शनिवार के शुभ योग में कुछ विशेष उपाय करना बहुत ही लाभदायक रहेगा। आइए जानते हैं इस दिन क्या करें उपाय..

 

pitru moskha amavasya

इस शुभ संयोग में लाभ प्राप्त करने के लिए करें ये विशेष उपाय:

1. पितरों के निमित्त विधिवत श्राद्ध, तर्पण, विदाई करें।
2. इस दिन अपने पितरों के निमित्त ब्राह्मण को भोजन कराएं और उन्हें वस्त्र भी दान करें।
3. इसके अलावा काक (कौआ), गौ (गाय), कुत्ता, पिपीलिका व अतिथि को भोजन कराना शुभ रहेगा।
4. पितृमोक्ष अमावस्या के दिन पीपल के पेड पर काली तिल सहित जल अर्पित करें और तेल का दीपक लगाएं। आपको लाभ प्राप्त होगा।
5. अमावस्या के दिन शाम के समय गीता के 7वें व 11वें अध्याय का पाठ करें।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned