Chaitra Navratri 2021: बेहद खास है इस बार की चैत्र नवरात्रि, जानें किनकी होगी मनोकामना पूरी

Chaitra Navratri 2021 special : देवी माता दुर्गा पृथ्वी पर करेंगी वास...

भोपाल

Updated: April 11, 2021 10:52:34 am

आदि शक्ति मां दुर्गा का पर्व नवरात्रि 2021 (chaitra navratri 2021) जल्द ही शुरु होने वाला है। हिंदू कलैंडर के चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से शुरु हो रहा ये पर्व चैत्र नवरात्रि के नाम से जाना जाता है। साल में आने वाली चार नवरात्रियों में से इस नवरात्र का खास महत्व माना गया है। ऐसे में इस बार चैत्र नवरात्रि (navratri 2021 date april) का 13 अप्रैल 2021 से शुभारंभ होकर 21 अप्रैल 2021 को रामनवमी (Ram Navmi) के साथ समापन हो जाएगा।
chaitra navratri 2021
ऐसे में इस बार चैत्र नवरात्रि (chaitra navratri 2021) का आरंभ मंगलवार के दिन से होने के कारण देवी मां घोड़े पर सवार होकर आएंगी। इससे पहले शारदीय नवरात्रि पर भी मां घोड़े पर सवार होकर आई थीं। लेकिन ध्यान रखने वाली बात ये भी है कि देवी मां जब भी घोड़े पर आती हैं तो युद्ध की आशंका बढ़ जाती है।
durga_mata IMAGE CREDIT: durga_mata
वहीं पंडितों व जानकारों के अनुसार सप्ताह में हर दिन किसी न किसी देवी देवता को समर्पित होता है। ऐसे में मंगलवार का दिन के कारक जहां हनुमानजी माने जाते हैं। वहीं मंगल को पराक्रम कारक होने के कारण इस दिन शक्ति की देवी मां दुर्गा की पूजा का विशेष विधान होता है।
ऐसे में इस बार चैत्र नवरात्रि की शुरुआत ही देवी मां के साप्ताहिक दिन मंगलवार से हो रही है, जो अत्यंत शुभ है। वहीं इस पर्व में अत्यंत खास माने जाने वाली अष्टमी भी इस बार मंगलवार को ही पड़ रही है।
दरअसल शास्त्रों के अनुसार नवरात्रि का पहला दिन (navratri start 2021) बहुत महत्व रखता है। वहीं इसी दिन से हिंदुओं का नववर्ष यानि नवसंवत्सर 2078 भी शुरु होगा, जिसके राजा व मंत्री दोनों ही मंगल होंगे। जानकारों की मानें तो ऐसे में ये नवरात्रि पूरे वर्ष के लिए विशेष आशीर्वाद प्रदान करने वाली सिद्ध होगी।
जानकारों के अनुसार माता के इस बार मंगलवार को आने व मंगल का इस आने वाले नववर्ष से संबंध कई ओर महत्व दर्शा रहा है। वहीं मंगल के पराक्रम का कारक होना व देवी मां शक्ति की देवी होना भी शुभता की ओर दर्शाता है। ऐसे में माना जा रहा है कि जो भी भक्त इस समय नियमानुसार देवी मां की भक्ति करेंगे, देवी मां उन्हें शक्ति प्रदान करने के साथ ही उनकी मनोकामना भी जल्द पूरी करेंगी।
चित्रा नक्षत्र से संबंध होने के कारण इस माह का नाम चैत्र है। ऐसे में इस महीने सूर्य और देवी की उपासना लाभदायक मानी जाती है। नाम, यश और पद प्रतिष्ठा के लिए सूर्य की उपासना करें। शक्ति और ऊर्जा के लिए देवी की उपासना करें। साथ ही इस महीने में लाल फलों का दान करने के अलावा नियमित रूप में पेड़-पौधों में जल डालें।
इस महीने अनाज कम खाना चाहिए, जबकि पानी अधिक पीना चाहिए। इसके अलावा फल खाने के अतिरिक्त इस महीने गुड़ नहीं खाना चाहिए। इस महीने में चना खाना बहुत अच्छा माना जाता है। साथ ही चैत्र से बासी भोजन, खाना बंद कर देना चाहिए।
नवरात्रि को ऐसे समझें:
सनातन धर्म में शक्ति की देवी माता दुर्गा की पूजा का विशेष महत्व है। इसी के चलते साल में नवरात्रि के चार पर्व मनाए जाते हैं, इस दौरान मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा की जाती है। माना जाता है कि इस दौरान देवी माता दुर्गा पृथ्वी पर आती हैं, और नौ दिनों तक यहीं वास करती हैं। साथ ही इस दौरान वे अपने भक्तों को कई प्रकार के विशेष आशीर्वाद प्रदान करती हैं।
नवरात्रि में विशेष रूप से मां दुर्गा के सभी 09 स्वरूपों की अलग-अगल दिन पूजा का महत्व होता है। ऐसे में इस चैत्र नवरात्रि में मां शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कुष्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्रि की पूजा-अर्चना की जाएगी।

चैत्र नवरात्रि 2021 के नौ दिन : Date wise name of 9 days...

13 अप्रैल 2021- मंगलवार- नवरात्रि प्रतिपदा- मां शैलपुत्री पूजा और घटस्थापना
14 अप्रैल 2021- बुधवार- नवरात्रि द्वितीया- मां ब्रह्मचारिणी पूजा
15 अप्रैल 2021- गुरुवार- नवरात्रि तृतीया- मां चंद्रघंटा पूजा
16 अप्रैल 2021- शुक्रवार- नवरात्रि चतुर्थी- मांकुष्मांडा पूजा
17 अप्रैल 2021- शनिवार- नवरात्रि पंचमी- मां स्कंदमाता पूजा
18 अप्रैल 2021- रविवार- नवरात्रि षष्ठी- मां कात्यायनी पूजा
19 अप्रैल 2021- सोमवार- नवरात्रि सप्तमी- मां कालरात्रि पूजा
20 अप्रैल 2021- मंगलवार- नवरात्रि अष्टमी- मां महागौरी
21 अप्रैल 2021- बुधवार- नवरात्रि नवमी- मां सिद्धिदात्री , रामनवमी
नवरात्रि के नियम : क्या करें, क्या न करें...
आमतौर पर उपवास करना सेहत के लिए अच्छा माना जाता है, लेकिन नवरात्रि के नौ दिन के व्रत करने कि लिए कुछ नियम होते हैं। इसलिए सोच-समझकर ही नवरात्रि (Poojan vidhi) के व्रत रखने चाहिए। वहीं इसी दिन से हिंदुओं के नववर्ष यानि नवसंवत्सर 2078 की भी शुरुआत होगी।
होम /त्योहार

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Follow Us

Download Partika Apps

Group Sites

Trending Stories

Monsoon : राजस्थान में 3 अगस्त से बारिश का नया सिस्टम, पूरे प्रदेश में होगी झमाझमNSA डोभाल की मौजूदगी में बोले मुस्लिम धर्मगुरु- 'सर तन से जुदा' हमारा नारा नहीं, PFI पर प्रतिबंध की बनी सहमतिकीमत 4.63 लाख रुपये से शुरू और देती हैं 26Km का माइलेज! बड़ी फैमिली के परफेक्ट हैं ये सस्ती 7-सीटर MPV कारेंराजस्थान में भारी बारिश का दौर जारी, स्कूलों की तीन दिन की छुट्टी, आज इन जिलों में झमाझम की चेतावनीWeather Update: राजस्थान में झमाझम बारिश को लेकर अब आई ये खबरराजस्थान में आज यहां होगी बारिश, एक सप्ताह तक के लिए बदलेगा मौसमएमपी में 220 करोड़ से बनेगा 62 किमी लंबा बायपास, कम हो जाएगी कई शहरों की दूरी, जारी हो गए टेंडरसरकारी नौकरी लगवा देंगे कहकर 10 युवाओं को लगाई 75 लाख रुपए की चपत, 2 गिरफ्तार

बड़ी खबरें

अमित शाह ने कांग्रेस के प्रदर्शन की टाईमिंग को लेकर कही बड़ी बात, कहा - 'काले कपड़े पहन कर राममंदिर का किया विरोध'PM मोदी से मिलीं बंगाल CM ममता बनर्जी, विकास योजनाओं के 1 लाख करोड़ के बकाए फंड की मांग कीWest Bengal SSC Scam: TMC नेता पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी की न्यायिक हिरासत बढ़ी, 18 अगस्त तक रहेंगे जेल मेंMaharashtra Panchayat Election Results 2022: महाराष्ट्र पंचायत चुनाव में शिंदे खेमे ने दिखाया दम, बीजेपी-उद्धव गुट समेत अन्य दलों के ऐसे रहें नतीजेफिल्मी स्टाइल में लुटेरों से भिड़ा एसएचओ, एक हाथ से बदमाश की पिस्टल पकड़ी, दूसरे से मुक्के मार किया बेहालBCCI के कोषाध्यक्ष ने विराट कोहली की कप्तानी और उनकी मौजूदा फॉर्म पर दिया बयानCongress Protest: काले कपड़ों में संसद तक पहुंचे कांग्रेस सांसद, विजय चौक पहुंचने से पहले हिरासत में राहुल गांधीगहलोत ने हिटलर-जर्मनी का इतिहास बताकर मोदी पर साधा निशाना
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.