अष्ट सिद्धि की प्राप्ती के लिए करें सिद्धिदात्री देवी की पूजा

नवरात्र के नौवें दिन सिद्धिदात्री देवी की पूजा की जाती है

नवरात्र के नौवें दिन सिद्धिदात्री देवी की पूजा की जाती है। जैसा की नाम से ही स्पष्ट है, भक्तों द्वारा माता की सच्चे मन से विधी-विधान से उपासना करने से अणिमा, महिमा, गरिमा, लघिमा, प्राप्ति, प्राकाम्य, ईशित्व और वशित्व ये आठ सिद्धियां प्राप्त होती है। मां सिद्धिदात्री चार भुजाओं वाली हैं। इनके हाथों में कमल, शंख, गदा व सुदर्शन चक्र धारण किए हुए हैं। इनका वाहन सिंह है और इनका आसन कमल है।

नौवें दिन सिद्धिदात्री की पूजा करने के लिए नवान्न का प्रसाद, नवरस युक्त भोजन तथा नौ प्रकार के फल-फूल आदि का अर्पण करना चाहिए। इस प्रकार नवरात्र का समापन करने से इस संसार में धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष की प्राप्ति होती है।
चंदू निर्मलकर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned