सिटी बैंक के बाद अब यह विदेशी बैंक बांध रहा है बोरिया बिस्तर, 12 साल पहले की थी भारत में एंट्री

भारत में Firstrand Bank की रणनीति की समीक्षा के बाद वर्तमान शाखा को रिप्रिजेंटेटिव ऑफिस में चेंज करने का फैसला किया है। दक्षिण अफ्रीका के Firstrand Bank ने अपनी पहली रिटेल और कमर्शियल ब्रांच मुंबई में खोली थी।

By: Saurabh Sharma

Updated: 22 Apr 2021, 06:06 PM IST

नई दिल्ली। अब अमरीकी सिटी बैंक के बाद एक और विदेशी बैंक ने भारत से अपना बोरिया बिस्तर समेटने का फैसला किया है। इस बैंक का नाम है Firstrand Bank। इस दक्षिण अफ्रीकी बैंक ने करीब 12 साल पहले भारत में एंट्री की थी। जो उस देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक है। बैंक की ओर से भारत के सभी कर्मचारियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इस बात की सूचना दे दी गई है। आइए आपको भी बताते हैं इस फैसले के बाद कितने लोगों की नौकरी पर असर पड़ेगा।

यह भी पढ़ेंः- कोरोना विस्फोट के बीच आरबीएल बैंक ने दी बड़ी राहत, ब्याज कम कर ईएमआई में की कटौती

50 कर्मचारियों की नौकरियों पर संकट
Firstrand Bank के इस फैसले से भारत में काम कर रहे करीब 50 कर्मचारियों की नौकरी पर असर देखने को मिल सकता है। बैंक अधिकारियों के बयान के अनुसार भारत में Firstrand Bank की रणनीति की समीक्षा के बाद वर्तमान शाखा को रिप्रिजेंटेटिव ऑफिस में चेंज करने का फैसला किया है। दक्षिण अफ्रीका के Firstrand Bank ने अपनी पहली रिटेल और कमर्शियल ब्रांच मुंबई में खोली थी। अफ्रीका के दूसरे सबसे बड़े फाइनेंशियल ग्रुप को साल 2009 में बैंकिंग लाइसेंस मिला था। पहले Firstrand Bank इन्वेस्टमेंट बैंकिंग का कारोबार कर रहा था पर बाद में रिटेल कारोबार में भी उतर गया।

यह भी पढ़ेंः- मई में 14 दिन बंद रहने वाले हैं बैंक, इसी महीने में कर लिजिए अपने सभी जरूरी काम

सिटी बैंक ने भी किया है ऐलान
इससे पहले अमरीकी सिटी बैंक की ओर से भी भारत से अपना कारोबार समेटने का ऐलान किया है। बैंक भारत के साथ 13 देशों से अपना कंज्यूमर बिजनेस बंद करने की तैयारी कर रहा है। बैंक ने गुरुवार को कहा कि ग्लोबल स्ट्रैटजी के हिस्से के रूप में वह भारत में अपना कंज्यूमर बैंकिंग बिजनेस बंद करने जा रहा है। सिटी बैंक ने 1902 में भारत में प्रवेश किया था और 1985 में बैंक ने कंज्यूमर बैंकिंग बिजनस शुरू किया था। बैंक के कंज्यूमर बैंकिंग बिजनेस में क्रेडिट काड्र्स, रीटेल बैंकिंग, होम लोन और वेल्थ मैनेजमेंट शामिल है। इस समय भारत में सिटीबैंक की 35 शाखाएं हैं। वहीं इसके कंज्यूमर बैंकिंग बिजनेस में करीब 4,000 लोग काम करते हैं।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned