चीन की कंपनी बना रही है डोनाल्ड ट्रंप के लिए झंडा, चुनावों में होगा इस्तेमाल

चीन की कंपनी बना रही है डोनाल्ड ट्रंप के लिए झंडा, चुनावों में होगा इस्तेमाल

Saurabh Sharma | Updated: 06 Jul 2018, 07:59:28 PM (IST) फाइनेंस

वर्ष 2020 में दोबारा चुने जाने के अपने अभियान के लिए डोनल्ड ट्रंप झंडा चीनी कंपनी से बनवा रहे हैं।

नर्इ दिल्ली। जहां एक आेर अमरीका आैर चीन के बीच ट्रेड वॉर चल रहा हो, वहीं दूसरी आेर एक चीनी कंपनी अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के चुनाव अभियान के लिए झंडा बनाने में जुटी हुर्इ है। वर्ष 2020 में दोबारा चुने जाने के अपने अभियान के लिए डोनल्ड ट्रंप झंडा चीनी कंपनी से बनवा रहे हैं। यह जानकारी अमेरिका के नेशनल पब्लिक रेडियो द्वारा रिपोर्ट में दी गर्इ है। रिपोर्ट की मानें तो पूर्वी झेजियांग प्रांत के इस कारखाने में 2016 में भी हिलरी क्लिंटन और ट्रंप के अभियान के लिए झंडे बने थे।

कंपनी का मानना है कुछ एेसा
कंपनी के मालिक लि छियांग ने कहा है, 'हम 2020 में भी ट्रंप के लिए झंडे बनाएंगे। लगता है कि वह 2020 के चुनाव में भी उतरेंगे। क्या यह ठीक नहीं है ?' उन्होंने ट्रंप के 2020 चुनाव अभियान के लिए झंडे बनाने को 'पूरी तरह सामान्य' बताते हुए कहा, 'यह तो व्यापार है। हम अमेरिका से सामान खरीदते हैं और अमेरिका चीन से सामान खरीद रहा है। जैसे मेरी कार अमेरिका की है।'

दोनों देशों बीच ट्रेड वाॅर शुरू
चीन और अमेरिका के बीच शुक्रवार को व्यापार युद्ध शुरू हो गया। दोनों पक्षों ने करीब 70 अरब डॉलर मूल्य के एक-दूसरे के सामानों पर अतिरिक्त शुल्क लगा दिया। इस घटनाक्रम से वैश्विक आर्थिक सुधार बाधित हो सकता है। चीन और अमेरिका विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाएं हैं। योजना के अनुसार, अमेरिका ने शुक्रवार को 34 अरब डॉलय मूल्य के चीन के 818 समानों पर कर लगाना शुरू कर दिया। अमेरिका ने यह कदम चीन के कथित तौर पर व्यापार कार्यो में चालाकी और अमेरिकी कंपनियों पर चीन में व्यापार करने के लिए अपनी तकनीकी को सौंपने के दबाव के मद्देनजर सजा के तौर पर उठाया है।

कुछ एेसी रही चीन की प्रतिक्रिया
चीन ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा शुक्रवार को चीनी सामानों पर योजना अनुरू लगाए गए करों पर उसी तरह से तेजी के साथ प्रतिक्रिया दी। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने कहा, "अमेरिका द्वारा अपने शुल्क लागू किए जाने के बाद चीन ने भी प्रभावी उपाय किए।" हालांकि, लू और चीन के वाणिज्य मंत्रालय ने शुल्क के पैमाने के बारे में विवरण नहीं दिया।

इन उत्पादों पर लगा शुल्क
चीन की योजना 34 अरब डॉलर मूल्य के 545 अमेरिकी उत्पादों पर दंडात्मक तौर पर कर लगाने की है। इसमें सोयाबीन व खेल में प्रयोग होने वाले वाहन व व्हिस्की शामिल हैं। अमेरिका द्वारा लगाए गए कर से चीन के उत्पादों जैसे औद्योगिक मशीनरी, चिकित्सा उपकरणों व ऑटो पार्ट्स पर अतिरिक्त 25 फीसदी शुल्क देना होगा। चीन के शुल्क के प्रभावी होने के साथ ही दुनिया की दो बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच व्यापार युद्ध शुरू हो जाएगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned