डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में हुई बढ़ोतरी, 9 महीनों में 14.1 फीसदी रही ग्रोथ

डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में हुई बढ़ोतरी, 9 महीनों में 14.1 फीसदी रही ग्रोथ

Manish Ranjan | Publish: Jan, 07 2019 05:24:07 PM (IST) फाइनेंस

चालू वित्त वर्ष के पहले 9 महीनों के टैक्स कलेक्शन का डेटा आ चुका है। अप्रैल से लेकर दिसंबर तक की अवधि में टैक्स कलेक्शन 14.1 फीसद बढ़कर 8.74 लाख करोड़ रुपए तक हो गया है।

नई दिल्ली। चालू वित्त वर्ष के पहले 9 महीनों के टैक्स कलेक्शन का डेटा आ चुका है। अप्रैल से लेकर दिसंबर तक की अवधि में टैक्स कलेक्शन 14.1 फीसद बढ़कर 8.74 लाख करोड़ रुपए तक हो गया है। 9 महीनों के टैक्स कलेक्शन का ये डेटा वित्त मंत्रालय ने जारी किया है।

डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में बढ़ोतरी

वित्त मंत्रालय की ओर से जारी डेटा के अनुसार ना सिर्फ टैक्स कलेक्शन में बढ़ोतरी हुई है। बल्कि रिफंड अमाउंट 1.30 लाख करोड़ रुपए रहा है। जो कि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि से फीसद ज्यादा है। वित्त मंत्रालय की ओर से जारी आकंड़ों के अनुसार वित्त वर्ष 2018-19 के लिए अनुमानित डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 11.5 लाख करोड़ रुपए है।

पर्सनल टैक्स में भी हुई बढ़ोतरी

वित्त मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि नवंबर महीने तक के लिए डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन के प्रोविजनल डेटा बताते हैं कि ग्रॉस कलेक्शन 6.75 लाख करोड़ रुपए रहा है जो कि बीते वर्ष की समान अवधि की तुलना में 15.7 फीसद ज्यादा है। वित्त मंत्रालय ने यह भी बटाया है कि कॉरपोरेट टैक्स में 12.5 फीसदी और पर्सनल टैक्स में 23.8 फीसदी बढ़ोतरी हुई है।

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned