अगर करते है क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल, तो भूल से भी न करें ये गलती

manish ranjan

Publish: Sep, 04 2017 12:32:00 (IST)

Finance
अगर करते है क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल, तो भूल से भी न करें ये गलती

यदि आप सही से इसका प्रयोग नहीं करते है तो नेगेटिव क्रेडिट स्कोर भी मिलता है जो आगे चलकर आपके उधार लेने की संभावना पर भी असर डाल सकता है।

नई दिल्ली। नोटबंदी के बाद से देश में प्लास्टिक मनी का प्रचलन काफी बढ़ गया है। लोगों को नगदी के जगह क्रेडिट कार्ड का प्रयोग करना ज्यादा पसंद आ रहा है। आजकल क्रेडिट कार्ड पर कई फायदे भी लोगों को लुभा रहे है, जैसे खर्च करने के बाद पैसे चुकाने के लिए मिलने वाला समय, रिवार्ड प्वाइंट आदि। लेकिन इससे अपको नुकसान भी है। ऐसे में यदि आप सावधानी से अपने क्रेडिट कार्ड का भुगतान नहीं करते है तो ये आप पर भारी भी पड़ सकता है। यदि आप सही से इसका प्रयोग नहीं करते है तो आपको नेगेटिव क्रेडिट स्कोर भी मिलता है जो आगे चलकर आपके उधार लेने की संभावना पर भी असर डाल सकता है। खर्च किए हुए रकम को समय से भुगतान करने मे चुक जाते है तो आपको अधिक ब्याज भी चुकाना पड़ सकता है। ऐसे में ये भी संभावना है कि आप कर्ज के जाल में भी फस सकते है। ऐसे में बहुत जरूरी है कि आप अपने क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल सोच समझ के साथ करें। इससे आपके आर्थिक हालात मे सुधार होगा, रिवार्ड प्वाइंट और कैशबैक जैसी सुविधाओं का आनंद उठा पाएंगे और अधिक ब्याज से भी बचे रहेंगे। हम आपको कुछ ऐसे ही टिप्स बता रहे है जिससे आप अपने क्रेडिट कार्ड का सही से इस्तेमाल कर सकेंगे।


अंतिम तारीख से पहले भुगतान करने की आदत डालें

कई लोग क्रेडिट कार्ड द्वारा किए गए बकाए का भुगतान के लिए निर्धारित अंतिम तारीख का इंतजार करते है तो वहीं कुछ लोग प्रतिमाह अपने बिल को बढ़ाते चले जाते है। ऐसे में आपको ज्यादा पेनाल्टी देनी पड़ सकती है। आपके लिए सही रहेगा कि निर्धारित समय से पहले बकाया राशि की भुगतान करने की अच्छी आदत डालें। इससे आपको ब्याज देने से तो बचेंगे ही साथ ही इससे आपको क्रेडिट प्रोफाइल भी बेहतर होगा। यदि आप सिर्फ न्यूनतम राशि का ही भुगतान करते हैं तो आपको बकाया राशि का भुगतान होने तक ब्याज-मुक्त लोन अवधि का लाभ नहीं मिलेगा। ऐसे में आप बकाया बिल का भुगतान करने से पहले किसी भी अतिरिक्त लेनदेन से बचने की कोशिश करेंं।


निर्धारित करें अपनी लोन सीमा

अगर आप अपने हैसियत से ज्यादा खर्च करने के आदी है तो इससे से बचने की कोशिश करें। हालांकि एक क्रेडिट कार्ड कंपनी एक निर्धारित लोन सीमा तय कर सकती है लेकिन आपको अपने क्षमता के आधार पर खुद अपनी सीमा तय करनी चाहिए। आप चाहें तो अपने क्रेडिट कार्ड कंपनी से बात करने भी अपनी लोन सीमा को घटा सकते है। आगे आप अपनी आमदनी बढऩे के हिसाब से अपने खर्च करने की अधिकतम सीमा निर्धारित कर सकते है।

आपको ये तय करना बेहद जरूरी है कि एक तय समय सीमा से पहले अपने क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान करते रहेें। इसके लिए आप अपने फोन पर रिमाइंडर भी सेट कर सकते हैं। हालांकि कंपनिया इसके लिए आपको मैसेज अलर्ट तो भेजती है। लेकिन कई बार आप इसपर ध्यान नहीं देते है, ऐेसे में भुगतान में देरी से बचने के लिए खुद रिमाइंडर सेट कर सकते हैं।

इसके लिए एक और प्रभावशाली तरीका ये है कि आप अपने खाते में ऑटा डेबिट सुविधा को ऐक्टिवेट कर लें। बैंक अपने खाता धारकों कों को न्यूनतम देय राशि और सम्पूर्ण बकाया राशि का भुगतान करने के लिए ऑटो डेबिट का विक्लप प्रदान करता हैं।


कैश निकालने के लिए न करें क्रेडिट कार्ड का प्रयोग

आपको बता दें कि क्रेडिट कार्ड कंपनियां कैश निकालने के लिए ब्याज मुक्त लोन अवधि प्रदान नहीं करती हैं। ऐसे में आप जिस दिन से कैश निकालेंगे उस दिन से ही ब्याज लगने लगेगा। इसलिए आप कैश निकालने के लिए क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल से बचें।


बिल की जांच करने की आदत डालें

आपको यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि आप अपने क्रेडिट कार्ड का सही तरीके से इस्तेमाल कर रहे है या नहीं, इसलिए अपने क्रेडिट कार्ड के बिल की जांच करते रहना चाहिए। इससे आपको अपने खर्च के साथ-साथ क्रेडिट कार्ड शुल्क, रिवार्ड प्वाइंट, ऑफर, डिस्काउंट इत्याादि सभी बातों का भी पता चलता रहेगा। इससे आपको एक और फायदा ये मिलेग कि आप अपने खर्च और लाभ की तुलना खुद कर सकेंगे।

सही समय पर बकाया राशि का भुगतान करने पर भी एक अधिक लोन आपको मुश्किल में डाल सकता है। इससे ये संकेत मिलता है कि आप एक जोखिमपूर्ण उधारकर्ता है। आमतौर पर बैंक कुल लोन सीमा के 30 फीसदी के आसपास के लोन उपयोग अनुपात को आर्थिक दृष्टि से स्वस्थ्य मानते हैं। इससे बचने के लिए आप एक से अधिक क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर सकते है क्योंकि एक से अधिक कार्ड का उपयोग करने से आपका खर्च बंट सकता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned