देशवासियों को पीएम मोदी की सौगात, हर महीने सरकार इन खातों पर देगी 10,000 रुपए

देशवासियों को पीएम मोदी की सौगात, हर महीने सरकार इन खातों पर देगी 10,000 रुपए

Manish Ranjan | Publish: Sep, 06 2018 11:11:21 AM (IST) फाइनेंस

पीएम मोदी जनधन के रूप में एक ऐसी योजना को लेकर आये जिसके जारिए गरीबों को बैंकिंग सिस्टम से जोड़ा गया।

नई दिल्ली। पीएम मोदी जनधन के रूप में एक ऐसी योजना को लेकर आये जिसके जारिए गरीबों को बैंकिंग सिस्टम से जोड़ा गया। जन-धन अकाउंट एक ऐसा अकाउंट था जिसे जीरो बैलेंस पर खोला गया। जिसके कारण करोड़ों लोग बैंक से जुड़े पाए।एक बार फिर इस योजना को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने एक बड़ा ऐलान किया है। सरकार ने इस योजना के तहत ओवरड्राफ्ट सुविधा के तहत मिलने वाली रकम को दोगुना करने का ऐलान किया है। यानी इसे 5 हजार से बढ़ाकर 10 हजार कर दिया गया हैं।

निश्चित काल तक हुई जनधन योजना
सरकार ने प्रधानमंत्री जनधन योजना की सफलता को देखते हुए ये फैसला लिया है की प्रधानमंत्री जनधन योजना (पीएमजेडीवाई) को हमेशा खुला रखा जायेगा। अरुण जेटली ने बताया कि प्रधानमंत्री जनधन योजना की भारी सफलता को देखते हुए पीएम मोदी ने इस योजना को हमेशा खुली रखने का फैसला किया है। योजना अनिश्चित काल तक खुली रहेगी। इतना ही नहीं इसमे कई और फायदों को जोड़ा जायेगा।

पीएम मोदी ने दी खुशखबरी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद ट्वीट कर इस योजना में आये नए बदलाव के बारे में लोगो को बताया। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा जन धन खाताधारकों को अब ज्यादा ओवरड्राफ्ट सुविधा, अधिक आकस्मिक बीमा और भी।जनधन खातों के तहत अब 2 लाख रुपए बीमा दिया जाएगा। 2000 रुपए तक की ओडी के लिए कोई शर्त नहीं होगी और ओडी लेने वालों की आयु को 60 से बढ़ाकर 65 वर्ष कर दिया गया है। जनधन योजना के तहत सभी वयस्कों का खाता खोला लक्ष्य है।

ओवरड्राफ्ट सुविधा हुई दुगनी
वित्त मंत्री ने बताया कि देश में जनधन योजना के तहत 32.41 करोड़ खाते खोले गए हैं जिनमें से 53 फीसदी खाते महिलाओं के, 59 फीसदी खाते ग्रामीण और शहरी इलाकों में खोले गए हैं। अरुण जेटली ने ये भी बताया है कि इन अकाउंट्स में 83 फीसदी खाते आधार से जुड़े हैं और 24.4 करोड़ खातों के साथ रुपे डेबिट कार्ड जारी कर दिया गया है। कैबिनेट ने जनधन योजना को आगे भी जारी रखने का फैसला किया है। यही कारण है की ओवरड्राफ्ट सुविधा को 5 हजार से बढ़ाकर 10 हजार कर दिया गया हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned