समझिए RBI मौद्रिक नीति समीक्षा की 12 मुख्य बातें, क्या होगा आप पर असर

समझिए RBI मौद्रिक नीति समीक्षा की 12 मुख्य बातें, क्या होगा आप पर असर

Shivani Sharma | Updated: 04 Oct 2019, 02:11:52 PM (IST) फाइनेंस

  • आरबीआई ने रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कटौती की
  • लगातार पांचवी बार आरबीआई ने कटौती की

नई दिल्ली। आरबीआई ने कमजोर पड़ती आर्थिक वृद्धि को बढ़ाने के लिए शुक्रवार को प्रमुख नीतिगत दर में 0.25 फीसदी की और कटौती कर दी। इस कटौती के बाद रेपो रेट 5.15 फीसदी रह गई। RBI ने इस साल लगातार पांचवीं बार ब्याज दरों में कटौती की है। बता दें कि रेपो रेट में कटौती होने से लोन लेने वाले ग्राहकों के ऊपर ईएमआई का बोझ कम हो जाएगा।

आइए आपको बताते हैं कि आरबीआई ने चालू वित्त वर्ष की चौथी द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा में किन बातों पर फोकस किया-

1. प्रमुख नीतिगत दर रेपो में 0.25 फीसदी की कटौती।

2. रेपो दर 5.15 फीसदी पर आई, इसके अलावा रिवर्स रेपो दर भी घटकर 4.90 फीसदी रह गई।

3. नीतिगत दर में वर्ष 2019 में यह लगातार पांचवी कटौती।

4. चालू वित्त वर्ष के लिए सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि दर का अनुमान 6.9 फीसदी से घटाकर 6.1 फीसदी किया।

5. आर्थिक वृद्धि की रफ्तार देने के लिए मौद्रिक नीति की बैठक में कटौती करने का फैसला लिया गया।

6. अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए सरकार के प्रोत्साहन उपायों से निजी क्षेत्र में खपत और निजी निवेश बढ़ाने में मिलेगी मदद।

7. लगातार आर्थिक सुस्ती से आर्थिक वृद्धि को बढ़ाने के प्रयास तेज करने की जरूरत।

8. दूसरी तिमाही के लिए खुदरा मुद्रास्फीति का अनुमान संशोधित कर 3.4 फीसदी किया।

9. दूसरी छमाही का खुदरा मुद्रास्फीति अनुमान 3.5 से 3.7 फीसदी पर बरकरार।

10. रिजर्व बैंक ने माना कि नीतिगत दरों में कटौती का लाभ आगे पहुंचाने का काम आधा-अधूरा ही हुआ।

11. विदेशी मुद्रा भंडार एक अक्टूबर तक 434.6 अरब डॉलर रहा, 31 मार्च 2019 के मुकाबले इसमें 21.7 अरब डॉलर की वृद्धि।

12. मौद्रिक नीति समिति के सभी सदस्य दरों में कटौती को लेकर सहमत।

13. मौद्रिक नीति समिति की अगली बैठक तीन से पांच दिसंबर 2019 को होनी तय।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned