Surakshit Matritva Aashwasan : गर्भवती महिलाओं के लिए खुशखबरी, योजना के तहत संपूर्ण खर्च उठाएगी सरकार

Highlights
- गर्भवती महिलाओं (Free medicines for pregnant women) के लिए भी सरकार (Government schemes for women) द्वारा चलाई गई योजना सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना (Surakshit Matritva Aashwasan) है
- इससे योजना की घोषणा 11 अक्टूबर 2019 को दिल्ली (Delhi) के कार्यक्रम में की गई थी
- गरीबी व पैसों के अभाव के चलते आज (Government schemes for women) भी हमारे देश में बहुत सी ऐसी महिलाएं है, जो प्रसव अपने घर पर ही करवाती है

By: Ruchi Sharma

Published: 20 Jul 2020, 02:02 PM IST

नई दिल्ली. देश में आम लोगों के लिए केंद्र की मोदी सरकार (Central Government) ने कई योजनाएं बनाई हैं। जिससे उन्हें सुविधा व सहायता प्राप्त हो सके। इसी क्रम में गर्भवती महिलाओं (Free medicines for pregnant women) के लिए भी सरकार (Government schemes for women) द्वारा चलाई गई योजना सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना (Surakshit Matritva Aashwasan) है। इससे योजना की घोषणा 11 अक्टूबर 2019 को दिल्ली (Delhi) के कार्यक्रम में की गई थी।

जानिए, क्या है योजना का उद्देश्य

गरीबी व पैसों के अभाव के चलते आज (Government schemes for women) भी हमारे देश में बहुत सी ऐसी महिलाएं है, जो प्रसव अपने घर पर ही करवाती है। जिसके कारण जच्चा बच्चा दोनों की जान को खतरा होता है। सरकार (Surakshit Matritva Aashwasan) द्वारा इस योजना को लॉच करने का मुख्य उद्देश्य (Suman Scheme Benefits) यह है, कि प्रसव अस्पताल में और डॉक्टरों (Free medicines for pregnant women) की निगरानी में सुनिश्चित हो सके जिससे किसी की भी जान को खतरा न हो।

खर्च व दवाइयां देगी सरकार

इस योजना (Surakshit Matritva Aashwasan) के अंतर्गत गर्भवती महिला का समस्त खर्च सरकार वहन करेगी और प्रसव (Suman Scheme) के 6 माह तक मां और बच्चे को दवाइयां भी सरकार (Government schemes for women) की तरफ से मुफ्त में मिलेगी।

योजना में ये मिलेगी Facility

- इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिला को अपनी जांच करवाने के लिए किसी भी प्रकार से पैसे देने की कोई जरूरत नहीं होगी।
- गर्भवती महिला को घर से स्वास्थ्य केंद्र तक जाने के लिए परिवहन की सुविधा भी प्रधानमंत्री सुमन योजना 2019 के अंतर्गत मुफ्त में उपलब्ध कराई जाएगी।
- किसी भी गंभीर या आपातकाल की स्थिति में एक घंटे के अन्दर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।
- इसके बाद, अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद घर तक पहुंचाने के लिए भी सरकार द्वारा फ्री वाहन उपलब्ध कराया जाएगा।
- इसके अलावा महिला को कम से कम 48 घंटे अस्पताल में गुजारने होंगे, जिससे प्रसव के दौरान स्वास्थ्य की ठीक से जांच की जा सके।

जानिए, क्या है योजना का लाभ (Benefit Of Scheme)

- पीएम सुमन योजना के माध्यम से 100 प्रतिशत सुरक्षित प्रसव कराना अब भारत सरकार की जिम्‍मेदारी होगी।
- भारत में सुरक्षित प्रसव का लक्ष्‍य 80% से बढ़ कर 100% हो जाएगा।
- प्रसव से पहले जितने भी चिकित्‍सीय परीक्षण अस्‍पताल में होंगें, वह सभी फ्री में किये जाएंगें यहां तक कि सारी जांचें भी फ्री में ही कराई जाएंगीं।
- अब गर्भवती महिला का प्रसव पूर्व चेकअप अनिवार्य कर दिया गया है, इसकी वजह से गर्भ में पल रहे बच्‍चे की सेहत व सही - स्थिति की जानकारी मिलती रहेगी।
- इस योजना के तहत सुरक्षित प्रसव की गारंटी महिला को सरकार की ओर से दी जाएगी।
- प्रसव ऑपरेशन से होने पर गर्भवती महिला तथा उसके परिवार से किसी भी मद में पैसा नहीं लिया जा सकेगा।
- प्रसव होने के छह माह तक की सभी दवाईयां सरकार की ओर से फ्री में प्रदान की जायेंगीं।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned