ITR फाइल करने के बाद भूल गए हैं वेरिफिकेशन तो 30 सितंबर है आखिरी मौका, जानें प्रक्रिया

  • ITR Verification : 2015-16 से लेकर 2019-20 तक के लिए रिटर्न ई-फाइल करने वाले टैक्सपेयर्स को इनकम टैक्स विभाग ने दी छूट
  • रिटर्न फाइल करने के बाद नहीं कराया वेरिफिकेशन तो ओटीपी और नेट बैंकिंग का कर सकते हैं इस्तेमाल

By: Soma Roy

Published: 28 Sep 2020, 01:33 PM IST

नई दिल्ली। नौकरीपेशा एवं व्यवसायियों को साल में एक बार इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) फाइल करना होता है। अक्सर आईटीआर फाइल करते समय जल्दबाजी में या नियमों में बदलाव के चलते कुछ गलतियां हो जाती हैं। ऐसे में आपको रिवाइज्ड रिटर्न भरने का मौका मिलता है। जबकि कुछ लोग टैक्स रिटर्न तो सही भरते हैं, लेकिन इसे वेरिफाई कराना भूल जाते हैं। जिसके चलते बाद में समस्या हो सकती है। अगर आप भी इन्हीं में से एक है तो इनकम टैक्स विभाग आपको वन टाइम रिलैक्सेशन यानि छूट दे रहा है। इसके तहत टैक्सपेयर्स 30 सितंबर 2020 तक अपने रिटर्न को वेरिफाई (ITR Verification) करा सकते हैं।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (Income Tax Department) की ओर से ऐसे टैक्स पेयर्स को रिटर्न वेरिफाई का मौका दे रहा है, जिन्होंने असेसमेंट ईयर (Assessment Years -AY) 2015-16 से लेकर 2019-20 तक के लिए रिटर्न ई-फाइल किया है। वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को आप घर बैठे आसानी से कर सकते हैं। इसके लिए आप ओटीपी, ईवीसी या नेट बैंकिंग का सहारा ले सकते हैं। तो कैसे पूरी करें ये प्रक्रिया आइए जानते हैं।

HSRP नंबर प्लेट और कलर स्टीकर के बिना कटेगा चालान, 30 अक्टूबर तक कर लें ये काम

OTP का करें इस्तेमाल
इनकम टैक्स रिटर्न फाइल को वेरिफाई करने के लिए पैन से आधार का लिंक होना जरूरी है। अब ओटीपी का इस्तेमाल करने के लिए ई-फाइलिंग पोर्टल www.incometaxindiaefiling.gov.in पर जाएं। इसके बाद ई-वेरिफाई लिंक पर क्लिक करें और e-verify return using bank Aadhaar OTP ऑप्शन को चुनें। ऐसा करते ही आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर मैसेज आएगा जिसके जरिए आप वेरिफिकेशन कर सकते हैं।

ATM से भी वेरिफिकेशन संभव
इनकम टैक्स रिटर्न को बैंक ATM से भी वेरिफाई करने के लिए कार्ड को मशीन पर स्वाइप करें। अब ई-फाइलिंग के लिए पिन डालें। ऐसा करने पर रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर EVC (electronic Verification Code) आएगा। अब आप ई-फाइलिंग पोर्टल पर लॉग इन करें और e-verify return using bank ATM ऑप्शन को सलेक्ट करें। इसके बाद फोन में मिला EVC डालें और आपका वेरिफिकेशन हो जाएगा।

नेट बैंकिंग से पूरी करें प्रक्रिया
रिटर्न को वेरिफाई करने के लिए नेट बैंकिंग का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए बैंकिंग अकाउंट में लॉग इन करें। अब बैंक की तरफ से दिए गए income tax e-filing लिंक पर क्लिक करें। फिर e-verify link against the return to be verified पर क्लिक करें। ऐसा करते ही वेरिफिकेशन पूरा हो जाएगा।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned