ICICI का कस्टमर्स को तोहफा, खाते में पैसा कम होने पर भी डेबिट कार्ड से कर सकते हैं 3 लाख तक का ट्रांजेक्शन

  • ICICI Debit Card : ज्यादातर बैंक एवं फाइनेंशियल कंपनी ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी देती हैं, ये एक तरह का लोन होता है
  • जरूरत पड़ने पर आप अपने खाते में मौजूद बैलेंस से ज्यादा रकम निकाल सकते हैं

By: Soma Roy

Published: 08 Oct 2020, 12:09 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना काल में हुए आर्थिक संकट के चलते अक्सर लोगों को रुपए की जरूरत पड़ रही है। ऐसे में RBI की ओर से ओवरड्राफ्ट सुविधा का लाभ लेने वाले ग्राहकों को इलेक्ट्रॉनिक कार्ड जारी करने की अनुमति दी गई है। इसी के आधार पर ICICI बैंक ने लोन अगेंस्ट सिक्योरिटीज LAS लेने वाले ग्राहकों को डेबिट कार्ड की सुविधा दे रही है। इसके जरिए कस्टमर्स खाते में पैसा कम होने या न होने पर भी एक दिन में 3 लाख तक का ट्रांजेक्शन कर सकेंगे। LAS एक तरह का पर्सनल लोन होता है।

लोन अगेंस्ट सिक्योरिटीज लेने वाले कस्टमर्स को ये डिजिटल डेबिट कार्ड एक दिन के अंदर ही मिल जाएगा। ये कार्ड बैंक के मोबाइल ऐप iMobile पर उपलब्ध होगा। इसके जरिए ग्राहक ऑनलाइन शॉपिंग कर सकेंगे। साथ ही दुकान से खरीदे गए सामान और पॉइंट ऑफ सेल (पीओएस) पर भुगतान कर सकेंगे। वहीं फिजिकल डेबिट कार्ड 7 दिनों के अंदर मिलेगा। ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी कोई भी बैंक या नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (NBFC) दे सकती है। इसकी लिमिट बैंक या कंपनी की ओर से तय की जाती है। इसलिए हर जगह की तय सीमा अलग होगी है।

कैसे मिलती है ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी
ज्यादातर बैंक करंट अकाउंट, सैलरी अकाउंट और फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) पर ओवरड्राफ्ट की सुविधा देते हैं। आप चाहे तो शेयर, बॉन्ड और बीमा पॉलिसी जैसे एसेट के बदले भी इसका लाभ ले सकते हैं। बैंक से आप अपनी जरूरत का पैसा ले सकते हैं और बाद में यह पैसा चुका सकते हैं। इस सुविधा में आप अपने बैंक अकाउंट से मौजूदा बैलेंस से ज्यादा पैसे निकाल सकते हैं। ऐसे में आपने जितने अतिरिक्त पैसे लिए हैं इसे एक निश्चित अवधि के अंदर चुकाना होता है। ये एक तरह का लोन होता है जो बैंक आपको जरूरत पड़ने पर देता है। इस पर ब्याज भी लगता है। जो रोजाना या मंथली बेसिस पर होते हैं।

Show More
Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned