Post Office की इस स्कीम में पैसे हो सकते हैं डबल, लॉग टर्म निवेशकों के लिए बेहतरीन विकल्प

  • Kisan Vikas Patra Scheme : 124 महीने में डबल हो सकते हैं आपके पैसे, इसमें 1000 रुपए की न्यूनतम धनराशि से कर सकते हैं निवेश
  • इस स्कीम में निवेशक सिंगल या ज्वाइंट में खुलवा सकता है खाता

By: Soma Roy

Published: 14 Oct 2020, 04:40 PM IST

नई दिल्ली। जिंदगी में कई ऐसे बड़े मौके आते हैं जिनमें ज्यादा जमापूंजी की जरूरत होती है। इसमें शादी से लेकर मकान खरीदना आदि हो सकते हैं। ऐसे में अगर आप लॉग टर्म इंवेस्टमेंट की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपके लिए Post Office की किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra Scheme) योजना एक फायदेमंद साबित हो सकती है। योजना को काफी भरोसेमंद माना जाता है, इसलिए पैसे डूबने का डर नहीं है। इस योजना में निवेश पर एक तय अवधि में पैसा डबल हो जाता है। पॉलिसी न्यूनतम निवेश 1000 रुपए है, जबकि अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं है।

क्या है KVP
किसान विकास पत्र योजना सरकार की ओर से संचालित की जाती है इसलिए इसे निवेश के लिहाज से काफी सुरक्षित माना जाता है। KVP प्रमाणपत्र डाकघरों से खरीदे जा सकते हैं। यहां निवेश करने पर बेहतर रिटर्न की गारंटी मिलती है। किसान विकास पत्र योजना में आपका निवेश किया हुआ पैसा 124 महीने में डबल हो जाता है। उदाहरण के तौर पर अगर आप इसमें एक लाख रुपए निवेश करते हैं तो इसके बदले आपको दो लाख रुपए मिलेंगे। वर्तमान में इसकी ब्याज दर 6.9 फीसदी है।

निवेश के लिए इन बातों का ध्यान रखना जरूरी
1.किसान विकास पत्र में निवेश करने वाले की उम्र 18 साल से कम नहीं होनी चाहिए।
2.इसे सिंगल और ज्वॉइंट किसी भी रूप में चला सकते हैं। अगर नाबालिग का अकाउंट खुलवाना है तो इसकी देखरेख अभिभावक को करनी होगी।
3.KVP में 1000, 5000,10,000 और 50,000 रुपए तक के सर्टिफिकेट हैं, जिन्हें खरीद सकते हैं।

आवेदन करने की प्रक्रिया
किसान विकास पत्र में निवेश के लिए डाकघर में जाकर फॉर्म भरकर अकाउंट खोल सकते हैं। आप चाहे तो फॉर्म आनलाइन भी डाउनलोड कर सकते हैं। इसमें आपको परचेज अमाउंट यानि कितनी रकम का निवेश करना चाहते हैं उसकी संख्या लिखें। साथ ही आवेदक का नाम, पता एवं अन्य विवरण भरें। KVP अकाउंट सिंगल या ज्वॉइंट में खुलवाने के लिए ‘ए‘ या ‘बी‘ सदस्यता का चुनाव करें। अगर आप इसमें किसी को नॉमिनी बनाना चाहते हैं तो उसका विवरण भी भरें। फॉर्म के साथ KYC प्रक्रिया के लिए पहचान प्रमाण, आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, KVP आवेदन पत्र और एड्रेस प्रूफ एवं डेथ आफ बर्थ सर्टिफिकेट की फोटोकॉपी लगानी होगी।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned