जानिए देश के यह 21 बैंक किस तरह से दे रहे हैं आपको मोरेटोरियम का लाभ

  • आरबीआई ले बैंकों को मोरेटोरियम का लाभ देश की जनता को देने को कहा है
  • देश के सभी बैंक अपना रहे हैं मोरेटोरियम का लाभ देने का अलग तरीका

By: Saurabh Sharma

Updated: 10 Apr 2020, 08:52 AM IST

नई दिल्ली। आरबीआई ने अलग-अलग बैंकों और अन्य लोन देने वाले संस्थानों को मोरेटोरियम को लागू करने के लिए बोर्ड द्वारा स्वीकृत नीतियों को बनाने और इस संबंध में अपने कर्जदारों से बात करने के लिए कहा है। इसलिए, कर्जदारों को अपने लोन संस्थान से प्राप्त लोन-संबंधित सूचनाओं पर नजऱ रखनी चाहिए। वैकल्पिक रूप से वे अपने लोन संस्थान से सीधा संपर्क भी कर सकते हैं कि क्या उन्हें ईएमआई या ब्याज कटने से रोकने के लिए अपने लोन संस्थानों से विशेष रूप से अनुरोध करने की आवश्यकता है। आइए आपको भी बताते हैं कि देश के 21 बैंकों ने किस तरह से मोरेटोरियम लागू किया है।

यह भी पढ़ेंः- WTO Report: कोरोना वायरस से होगा वैश्विक कारोबार को 32 फीसदी का होगा नुकसान

बैंकों ने लागू किया मोरेटोरियम

बैंक मोरेटोरियम ऑप्शन EMI कैसे रोकें/ भुगतान करें
एसबीआई ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी मोरेटोरियम चुनने के लिए ईमेल भेजें
आईडीबीआई खुद ही राहत दे दी जाएगी मोरेटोरियम ना लेने के लिए ईमेल भेजें
केनरा बैंक ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी बैंक द्वारा भेजें गए SMS पर ‘NO’ लिखकर 8422004008 पर रिप्लाई करें
आईडीएससी फर्स्ट बैंक

ग्रामीण क्षेत्र और कृषि लोन के लिए खुद ही राहत दे दी जाएगी

अन्य लोन के लिए ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी

मोरेटोरियम चुनने के लिए [email protected]ईमेल भेजें या 8007010908 पर एसएमएस भेजें
ICICI बैंक टू-व्हीलर लोन, बिज़नस लोन, फ़ार्म लोन और ज्वेलरी लोन पर खुद ही राहत दे दी जाएगी। अन्य लोन पर रहत ग्राहकों की मांग पर दी जाएगी। ये जानने के लिए कि कौन सा लोन मोरेटोरियम के लिए योग्य है और कौन सा नहीं बैंक वेबसाइट पर जाएं। इसके मुताबिक बैंक को SMS या ईमेल भेजें।
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया खुद ही राहत दे दी जाएगी EMI जारी रखने के लिए बैंक से संपर्क करें
यूको बैंक खुद ही राहत दे दी जाएगी EMI जारी रखने के लिए बैंक से संपर्क करें
बैंक ऑफ बड़ोदा ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी

मोरेटोरियम चुनने के लिए ईमेल यस लैटर भेजें

बैंक भी मोरेटोरियम चुनने के लिए लोन धारकों को SMS भेज रहा है

फेडरल बैंक 5 करोड़ रु. तक के बिज़नेस लोन, कृषि लोन, गोल्ड और अन्य छोटे लोन पर खुद ही राहत दे दी जाएगी.
5 करोड़ रु. से ज़्यादा के बिज़नेस लोन और रिटेल लोन पर ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी।

कृषि लोन, माइक्रो लेंडिंग लोन और गोल्ड लोन के ग्राहक [email protected]पर ईमेल भेज मोरेटोरियम का विकल्प को चुन सकते हैं।

रिटेल लोन ग्राहक [email protected] पर ईमेल भेजकर मोरेटोरियम का विकल्प चुन सकते हैं।

एचडीएफसी बैंक ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी 02250042211/ 0225004233 पर कॉल करें या hdfcbk.co/CYMvQvपर क्लिक कर मोरेटोरियम के लिए अपनी जानकारी दें.
कोटक महिंद्रा बैंक ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी मोरेटोरियम चुनने के लिए [email protected]पर ईमेल भेजें
बजाज बैंक ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी मोरेटोरियम चुनने के लिए [email protected]पर ईमेल भेजें
पीएनबी हाउसिंग ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी मोरेटोरियम चुनने के लिएवेबसाइट पर जाए, ईमेल भेजें, 8743950000 पर मिस कॉल दें या या 56161 पर SMS भेजें
इंडियाबुल्स हाउसिंग ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी मोरेटोरियम चुनने के लिए वेबसाइट पर जाएं या या [email protected]पर ईमेल भेजें
रेपको बैंक खुद ही राहत दे दी जाएगी मोरेटोरियम चुनने के लिए वेबसाइट पर जाएं या ईमेल भेजें
पंजाब एंड सिंद बैंक खुद ही राहत दे दी जाएगी EMI जारी रखने के लिए “NO” लिखकर 8652634668 पर SMS भेजें
एचएसबीसी बैंक ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी https://www.hsbc.co.in/help/coronavirus/इस लिंक पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करें
ड्यूश बैंक खुद ही राहत दे दी जाएगी EMI जारी रखने के लिए लिखकर 561615 पर SMS भेजें
स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक खुद ही राहत दे दी जाएगी EMI जारी रखने के लिए<>स्पेस <<लोन अकाउंट न०>> लिखकर 8693800500 पर SMS भेजें
बैंक ऑफ इंडिया खुद ही राहत दे दी जाएगी EMI जारी रखने के लिए बैंक से संपर्क करें
एक्सिस बैंक गोल्ड लोन, KCC लोन, किसान लोन, माइक्रो-फाइनेंस लोन, कमर्शियल लोन, कमर्शियल व्हीकल लोन, कमोडिटी लोन, ट्रेक्टर लोन, कंस्ट्रक्शन इक्विपमेंट लोन, बिज़नेस लोन और असुरक्षित ओवरड्राफ्ट और टर्म लोन खुद ही राहत दे दी जाएगी। अन्य लोन के लिए ग्राहकों की मांग पर राहत दी जाएगी। किस प्रकार के लोन को मोरेटोरियम का लाभ मिल सकता है ये जानने के लिए बैंक वेबसाइट पर जाएं। इसके बाद मोरेटोरियम का विकल्प चुनने के लिए बैंक को ईमेल या SMS भेजें।
Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned