LIC की इस पॉलिसी से बच्चों का भविष्य होगा सिक्योर, 150 रुपए के निवेश से मिलेंगे 19 लाख रुपए

  • LIC New Children's Money Back Plan : योजना के तहत 0 से 12 साल के बच्चे के लिए ले सकते हैं पॉलिसी
  • बच्चों के हायर एजुकेशन को आसान बनाने के लिए इस पॉलिसी को शुरू किया गया है

By: Soma Roy

Published: 23 Sep 2020, 05:26 PM IST

नई दिल्ली। बच्चों का भविष्य संवारने के लिए एलआईसी ने न्‍यू चि‍ल्‍ड्रन्‍स मनी बैक योजना (LIC New Children's Money Back Plan) शुरू की है। इसमें बच्चे की हायर एजुकेशन (Higher Education) से लेकर अन्य जरूरत के समय पर मदद मिलेगी। एलआईसी के इस प्लान से पॉलिसी लेने वालों को मनी बैक का फायदा भी मिलता है। इसमें रोजाना रोज 150 रुपए के निवेश से 19 लाख की मोटी रकम हासिल कर सकते हैं। तो क्या है ये स्कीम और कैसे करें इसमें इंवेस्टमेंट (Investment) जानें पूरी प्रक्रिया।

क्या है पॉलिसी
एलआईसी के न्‍यू चि‍ल्‍ड्रन्‍स मनी बैक योजना में निवेश के जरिए बच्चों की उच्च शिक्षा पर होने वाले खर्च को कम किया जा सकता है। इसका मकसद यह है कि देश के किसी भी आयवर्ग के बच्चे को अपने सपनों को पूरा करने के लिए पैसों की दिक्कत नहीं होगी। उसका भविष्य सुरक्षित होगा। इतना ही नहीं एलआईसी की इस प्लान के तहत पॉलिसी लेने वाले को मनी बैक का फायदा भी मिलेगा। योजना में आवेदन के लिए न्यूनतम आयु 0 वर्ष है, जबकि अधिकतम आयु सीमा 12 वर्ष है। इसमें न्यूनतम बीमा राशि 1,00,00 रुपए से निवेश किया जा सकता है। जबकि कोई अधिकतम राशि सीमा नहीं है। आप इस पॉलिसी में प्रीमियम वेवर बेनिफिट राइडर ऑप्शन भी ले सकते हैं।

स्कीम के फायदे
एलआईसी न्‍यू चि‍ल्‍ड्रन्‍स मनी बैक योजना में पॉलिसीधारक को 18, 20 और 22 वर्ष की उम्र पूरी होने पर सम एश्योर्ड का 20 फीसदी रकम मिलेगा। पॉलिसी मैच्योरिटी के समय ( बीमाधारक की पॉलिसी अवधि के दौरान मृत्यु नहीं होने पर ) पॉलिसीधारक को बीमा राशि का बचा हुआ 40 फीसदी बोनस के साथ मिलेगा। वहीं, पॉलिसी अवधि के दौरान पॉलिसीधारक की मृत्यु की स्थिति में बीमा राशि के अलावा निहित साधारण प्रत्यावर्ती बोनस और अंतिम अतिरिक्त बोनस दिया जाएगा। डेथ बेनिफिट कुल प्रीमियम पेमेंट का 105 फीसदी से कम नहीं होगा।

कैसे करें आवेदन
न्‍यू चि‍ल्‍ड्रन्‍स मनी बैक योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपके पास आधार कार्ड /पैन कार्ड एव एड्रेस प्रूफ के लिए राशन कार्ड या बिजली के बिल की फोटोकॉपी होनी जरूरी है। इसके अलावा बीमाधारक के मेडिकल दस्तावेज होने चाहिए। सारे कागज के साथ योजना से जुड़ा एक फॉर्म भरना होगा। अगर बच्चे की उम्र कम है या पालिसी की राशि ज्यादा तो लीज मेडिकल टेस्ट भी ले सकती है।

Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned