घर बैठे महिलाएं कर सकती हैं तगड़ी कमाई, छोटे बिजनेस ​के लिए मिलेंगे 10 लाख रुपए

  • Mahila Udyam Nidh Scheme : महिला उद्यम निधि के तहत बैंकों की ओर से बिना गारंटी लोन मुहैया कराया जाता है
  • इसमें लोन चुकाने की अवधि 5 से 10 वर्ष तक की होती है

By: Soma Roy

Published: 15 Dec 2020, 08:24 PM IST

नई दिल्ली। महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने एवं उन्हें रोजगार के लिए प्रोत्साहित करने के मकसद से महिला उद्योग निधि (MUN) योजना चलाई जा रही है। इसमें महिलाओं को छोटे बिजनेस के लिए बैंक 10 लाख तक का लोन मुहैया कराएगी। अच्छी बात यह है कि इसमें कर्जदार को किसी तरह की गारंटी नहीं देनी होगी। इस योजना के तहत दी जाने वाली अधिकतम लोन भुगतान अवधि 5 वर्ष से 10 वर्ष तक है। अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहती हैं तो इन प्रक्रियाओं का पालन करना होगा।

इन बिजनेस पर मिलेगा लोन
महिला उद्यम निधि योजना के तहत ब्यूटी पार्लर, सैलून, सिलाई, कृषि और कृषि उपकरणों की सेवा, कैंटीन और रेस्टोरेंट, नर्सरी, लॉन्ड्री और ड्राई क्लीनिंग, डे केयर सेंटर, कम्प्यूटराइज़्ड डेस्क टॉप पब्लिशिंग, केबल टीवी नेटवर्क, फोटोकॉपी (ज़ेरॉक्स) सेंटर, सड़क परिवहन ऑपरेटर, प्रशिक्षण संस्थान, वॉशिंग मशीन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक और इलेक्ट्रिकल गैजेट्स रिपेयरिंग, जैम—जेली व मुरब्बा बनाना आदि छोटे उद्योग शुरू किए जा सकते हैं। इस पर बैंक की ओर से लोन दिया जाता है। महिला उद्यम निधि योजना की ओर से दी जाने वाली रकम का उपयोग आप छोटे व्यवसाय (MSME) द्वारा सर्विस, मैन्चुफैक्चरिंग और प्रॉडक्शन से जुड़ी गतिविधियों में कर सकती हैं।

पूरी करनी होंगी ये शर्तें
ज्यादा छोटे व्यवसाय (SSI) की शुरुआत करने के लिए आवेदक महिला का किसी उद्योग से जुड़ा होना जरूरी है। व्यवसाय में उनका मालिकाना हक कम से कम 51% होना चाहिए। जो भी बिजनेस शुरू करें उसमें 5 लाख रु. के न्यूनतम निवेश हो और 10 लाख रुपए से अधिक खर्च न हो।

Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned