एक मिस्ड कॉल दिलाएगी आपको आपके पीएफ का पैसा, ये है नंबर

अब बस एक नंबर के जरिए आप अपने पीएफ खाते की जानकारी पा सकते हैं।

By: manish ranjan

Published: 03 Jul 2018, 06:40 PM IST

नई दिल्ली। हर कंपनी अपने कर्मचारियों की सैलरी का कुछ पैसा उनके पीएफ अकाउंट में जमा करती है.। जिससे ये पैसा भविष्य में उनके काम आ सके। पीएफ अकाउंट कर्मचारियों के भविष्य के लिए की गई बचत है। यही नहीं इस पैसे पर ब्याज भी बैंकों के बराबर या ज्यादा मिलता है। साथ ही पीएफ अकाउंट में जमा पैसे पर कोई टैक्स नहीं लगता। यही वजह है कि हर कर्मचारी को अपने पीएफ अकाउंट के बारे में सजग रहना चाहिए और समय-समय पर इसके बारे में अपडेट होते रहना चाहिए। आप अगर नौकरी बदलते है या छोड़ देते हैं तो आपको अपने पीएफ के पैसे निकालवने में कई महीने लग जाते है। यहां तक की आपको जानकारी भी नही मिल पाती कि आपके खाते में कितना पैसा है। तो चिंता की बात नहीं है अब बस एक नंबर के जरिए आप अपने पीएफ खाते की जानकारी पा सकते हैं।

इस नंबर पर करें मिस कॉल

सरकार ने कर्मचारियों की सुविधाओं के लिए यूनिवर्सल अकाउंट नंबर यानी UAN पोर्टल भी बनाया है. जहां सभी कर्मचारी का पंजीकरण होना भी जरूरी है. यहां पंजीकृत सदस्य EPFO में उपलब्ध विवरण की जानकारी अपने रजिस्टर्ड नंबर मोबाइल नंबर पर प्राप्त कर सकते हैं. इसके लिए कर्मचारी को 011-22901406 पर मिस्ड कॉल देनी होगी.

इस तरह उठाएं सुविधा का लाभ

इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए यूनिफाइड पोर्टल का यूएएन (universal account number) एक्टिव होना जरूरी है. बता दें कि जब आप 011-22901406 पर पंजीकृत मोबाइल नंबर से मिस्ड कॉल देंगे तो दो घंटियां बजने के बाद फोन अपने आप कट जाएगा. ये सेवा हर सदस्य के लिए बिलकुल मुफ्त है. इसके अलावा इन सेवाओं का लाभ बिना स्मार्टफोन वाले कर्मचारी भी उठा सकते हैं.

ऐसे जानकारी मिलेगी

बता दें कि अगर किसी सदस्य का UAN किसी भी एक बैंक खाते, आधार और पैन से जुड़ा हुआ है तो सदस्य को अंतिम योगदान और भविष्य निधि बचत का विवरण मिल सकता है. इसके साथ ही भविष्य निधि बचत और अंतिम भुगतान की जानकारी उमंग ऐप पर भी उपलब्ध है. कोई रजिस्टर्ड कर्मचारी मिस्ड कॉल और एसएमएस सेवा से उमंग ऐप से जानकारी प्राप्त कर सकता है.

 

manish ranjan Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned