वित्त वर्ष 2018-19 में करोड़पति टैक्सपेयर्स की संख्या हुआ 20 फीसदी का इजाफा

  • 1 करोड़ रुपए से अधिक की सालाना टैक्स योग्य आय वालों की संख्या 1.67 लाख
  • 15 अगस्त, 2019 तक कुल 5.87 करोड़ इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल किए गए

Saurabh Sharma

October, 1901:54 PM

नई दिल्ली। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड यानी सीबीडीटी के आंकड़ों के अनुसार वित्त वर्ष 2018-19 में करोड़पति टैक्सपेयर्स की संख्या में 20 फीसदी का इजाफा हुआ है। अब ऐसे में टैक्स पेयर्स की संख्या एक लाख के करीब पहुंच गई है। वहीं इस दौरान साढ़े पांच करोड़ व्यक्तिगत लोगों ने टैक्स दिया है।

यह भी पढ़ेंः- लगातार दूसरे दिन सस्ता हुआ डीजल, पेट्रोल की कीमत में कोई बदलाव नहीं

आपको बता दें कि केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने वित्त वर्ष 2018-19 तक प्राप्त आंकड़े और अससेमेंट इयर 2018-19 (वित्त वर्ष 2017-18) के नियमित समय पर जारी आमदनी के आंकड़े जारी किए हैं। इन आंकड़ों में कंपनियों, फर्मों, हिंदू अविभाजित परिवार और व्यक्तिगत लोगों की आय वितरण सूचना दी गई है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर सीबीडीटी की ओर से किस तरह के आंकड़े पेश किया।

यह भी पढ़ेंः- आरटीआई से खुलासा : 31 फीसदी मेल, 33 फीसदी पैसेंजर गाड़ियां रहीं लेट!

कुछ इस तरह के आंकड़े पेश किए
- असेसमेंट ईयर 2018-19 में करोड़पति टैक्सपेयर्स की संख्या 20 पर्सेंट बढ़कर 97,689 पर पहुंच गई है।
- असेसमेंट ईयर 2017-18 में एक करोड़ रुपए से अधिक की टैक्सेबल इनकम वाले टैक्सपेयर्स की संख्या 81,344 थी।
- 1 करोड़ रुपए से अधिक की सालाना टैक्स योग्य आय वाले लोगों की संख्या 1.67 लाख है।
- असेसमेंट इयर 2017-18 की तुलना में 19 फीसदी अधिक है।
- 15 अगस्त, 2019 तक कुल 5.87 करोड़ इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल किए गए।
- 5.52 करोड़ से अधिक व्यक्तिगत लोगों ने रिटर्न दाखिल किया है।
- 11.13 लाख हिंदू अविभाजित परिवारों की ओर से रिटर्न भरा है।
- 12.69 लाख फर्मों और 8.41 लाख कंपनियों ने रिटर्न दाखिल किया है।

Saurabh Sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned