खस्ताहाल पाकिस्तान को एक और झटका, इस अमरीकी कंपनी ने पाक में कदम रखने से मना किया

खस्ताहाल पाकिस्तान को एक और झटका, इस अमरीकी कंपनी ने पाक में कदम रखने से मना किया

Ashutosh Kumar Verma | Publish: May, 19 2019 04:15:03 PM (IST) फाइनेंस

  • पाकिस्तान में अपना कारोबार नहीं शुरू करेगी ऑनलाइन पेमेंट कंपनी PayPal
  • पाकिस्तान में पेपल के कारोबार शुरू करने में फेल हुई सरका ने दी सफाई।
  • साल 2015 में ही पाकिस्तान ने कहा था कि पेपल के आगमन के लिए हम तैयार हैं।

 

नई दिल्ली। खस्ताहाल अर्थव्यवस्था से परेशान पाकिस्तान ( Pakistan ) के आम नागारिकों को अब एक और झटका लगाा है। दरअसल, पेपल ( PayPal) नाम की अमरीकी पेमेंट कंपनी ने पाकिस्तान में अपना कारोबार शुरू करने से मना कर दिया है। इसके पहले पाकिस्तानी सरकार ने भी इस अमरीकी कंपनी को अपने देश में कारोबार शुरू करने के लिए बुलाया था। पेपल वैश्विक पेमेंट सिस्टम मुहैया कराती है, जिसके तहत आप ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें - IndiGo के CEO ने मानी आपसी मतभेद की बात, कहा - इससे कंपनी की रणनीति में कोर्इ बदलाव नहीं

कंपनी के मना करने के बाद पाकिस्तान ने दी सफाई

पाकिस्तान के इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी मंत्रालय के सचिव मरूफ अफजल ने सीनेट स्टैंडिंग कमिटी को कहा, "पेपल ने अपना कारोबार पाकिस्तान में लाने से इसलिए मना किया क्योंकि उसे यहां ऑपरेट करने में कोई परेशानी है। उनकी अपनी आंतरिक कार्यशैली ऐसी नहीं है कि वे पाकिस्तान में अपनी सेवाएं दे सकें।" एक तरफ अफजल इस पाकिस्तान में पेपल के कारोबार नहीं करने को लेकर सफाई दे रहे थे वहीं, दूसरी तरफ एक पाकिस्तानी सांसद अतीक शेख ने कहा कि पेपल पाकिस्तान में इसलिए नहीं आ रहा क्योंकि यहां कंपनी को नुकसान होने से बचने संबंध कोई कानून नहीं है।

यह भी पढ़ें - अगले माह GST काउंसिल की बैठक में AAAR के नेशनल बेंच बनाने के प्रस्ताव पर हो सकती है चर्चा

पाकिस्तानी सांसद का दावा- कंपनी को खतरे का एहसास

शेख ने आगे कहा, "मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले से पेपल को भारी नुकसान हो सकता है। इसके लिए उसे सरकार का समर्थन चाहिए ताकि कंपनी खुद को सुरक्षित मान सके।" गत फरवरी माह में अमरीकी वित्त मंत्री असद उमर ने कहा था कि वो पेपल को पाकिस्तान में लाने के लिए कंपनी से बातचीत कर रहे हैं। इस दौरान यह भी खबर आई थी अमरीकी फेडरल सरकार इस कंपनी को पाकिस्तानी बाजार में कदम रखने को लेकर सावधान कर चुकी है। नवंबर 2015 में, पाकिस्तान के आईटी मंत्रालय ने कहा था कि वो पेपल और अलीबाबा जैसे ग्लोबल ऑनलाइन पेमेंट कंपनियों को अपने देश में लाने के लिए तैयार है।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned