1 अप्रैल 2020 से बदल जाएगा पेंशन नियम जाने जाने क्या कहता है नया नियम और आप पर कैसा पड़ेगा असर

दरअसल सरकार ने 2009 में वापस लिए ईपीएस से जुड़े एक नियम को बहाल कर दिया है । अब सरकार 15 साल बाद पूरी पेंशन के प्रावधान को बहाल करने वाली है।

Pragati Vajpai

25 Mar 2020, 09:46 PM IST

नई दिल्ली : 1 अप्रैल, 2020 से एम्प्लॉई पेंशन स्कीम (EPS) नियमों में भी बदलाव होगा. नए नियम के तहत EPS पेंशनर्स को पहले के मुकाबले ज्यादा पेंशन मिलेगी। दरअसल सरकार ने 2009 में वापस लिए ईपीएस से जुड़े एक नियम को बहाल कर दिया है । अब सरकार 15 साल बाद पूरी पेंशन के प्रावधान को बहाल करने वाली है।

सरकार के इस कदम से उन ईपीएफओ पेंशनर्स को फायदा होगा जो 26 सितंबर, 2008 से पहले रिटायर हुए हैं और पेंशन की आंशिक निकासी का विकल्‍प चुना है। कम्‍यूटेड पेंशन का विकल्‍प चुनने की तारीख से 15 साल बाद उन्‍हें पूरी पेंशन का फायदा दोबारा मिलने लगेगा।
क्‍या होता है कम्‍यूटेशन?
पीएफ अकाउंट होल्डर्स रिटायरमेंट के बाद पेंशन की हर महीने मिलने वाली रकम का एक निश्चित राशि अगर एडवांस में एकमुश्त निकालते हैं, तो उसे पेंशन का कम्यूटेशन कहते हैं। 26 सितंबर 2008 से पहले यह नियम था कि पीएफ खाताधारक रिटायरमेंट के बाद अपने 100 महीने की पेंशन का एक-तिहाई हिस्सा एकमुश्त एडवांस में निकाल सकते थे। 15 साल के बाद पूरी पेंशन की बहाली का प्रावधान था। 20 फरवरी, 2020 को जारी नोटिफिकेशन से ऐसे कर्मचारियों को फायदा होगा क्‍योंकि 15 साल बाद उन्‍हें दोबारा पूरी पेंशन मिलने लगेगी।

Pragati Bajpai Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned