Post Office Saving Account के नियमों में हुआ बदलाव, अब आपको मिलेगा ये फायदा

-Post Office Savings Account: पोस्ट ऑफिस विभाग ने हाल ही में एक सुर्कलर जारी किया है।
-जिसके तहत अब सरकारी सब्सिडी ( Govt Subsidy ) का लाभ उठाने के लिए ग्राहकों को बैंक ( Bank Account ) में खाता खुलवाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।
-अब ग्राहक पोस्ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट में ही सरकारी सब्सिडी का लाभ ले सकेंगे।
-इसके लिए ग्राहकों को अपने बचत खाता को आधार कार्ड ( Aadhar Card ) से लिंक करना होगा।

By: Naveen

Published: 14 Sep 2020, 02:36 PM IST

नई दिल्ली।
Post Office Savings Account: पोस्ट ऑफिस विभाग ने हाल ही में एक सुर्कलर जारी किया है। जिसके तहत अब सरकारी सब्सिडी ( Govt Subsidy ) का लाभ उठाने के लिए ग्राहकों को बैंक ( Bank Account ) में खाता खुलवाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यानी कि अब ग्राहक पोस्ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट में ही सरकारी सब्सिडी का लाभ ले सकेंगे। इसके लिए ग्राहकों को अपने बचत खाता को आधार कार्ड ( Aadhar Card ) से लिंक करना होगा। इसके बाद DBT के बेनिफिट हासिल किए जा सकते हैं। पोस्ट ऑफिस विभाग ( India Post ) के मुताबिक, पुराने ग्राहक भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं, इसके लिए एक एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा।

क्या है Post Office फाइव स्टार गांव योजना? लोगों को कैसे मिलेगा इसका फायदा

कैसे मिलेगा लाभ
आपको बता दें कि अप्रैल में पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF), नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC) समेत अन्य योजनाओं के लिए एक कॉमन एप्लीशकेशन फॉर्म जारी किया था। अब सरकार ने पुराने ग्राहकों के लिए भी एक एप्लीकेशन फॉर्म जारी किया है। इसे एप्लीकेशन को फॉर लिंकिंग/सीडिंग और रिसीविंग डीबीटी बेनिफिट्स इन-टू पीओएसबी अकाउंट के नाम से जारी किया गया है। जिसके जरिए पुराने खाताधारक अपने आधार से अपने बचत खाता को जोड़ सकते हैं।

मिनिमम बैलेंस रखना है जरूरी
पोस्ट ऑफिस ने सेविंग अकाउंट से जुड़े कुछ नियमों में भी बदलाव किए हैं। नये नियमों के मुताबिक, अब सेविंग अकाउंट में मिनिमम बैलेंस की सीमा को बढ़ाकर 50 रुपये से 500 रुपये कर दिया है। ग्राहकों को अब खाते में कम से कम 500 रुपये रखने होंगे। मिनिमम बैलेंस नहीं रखने की स्थिति में वित्तीय वर्ष के अंतिम वर्किंग डे को पोस्ट ऑफिस आप से 100 रुपये पेनल्टी लग सकती है। ऐसे में आपको अपने अकाउंट में न्यूनतम बैलेंस रखना होगा।

Atma Nirbhar Bharat Package के तहत किस सेक्टर में हुआ कितना खर्च, मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned