Post Office Schemes: जानें Saving Account, SSY, PPF, NSC, FD की Latest Interest Rates

-Post Office Schemes Interest Rates: पोस्ट ऑफिस ( Post Office Scheme ) की योजनाओं में निवेश करना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।
-पोस्ट ऑफिस में आपको अच्छा रिटर्न तो मिलता है, साथ ही आपके पैसे की सुरक्षा की गारंटी भी रहती है।
-आप पोस्ट ऑफिस बचत खाता, फिक्स्ड डिपॉजिट, रेकरिंग डिपॉजिट ( Post Office RD ), पोस्ट ऑफिस पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( POPPF ) , पोस्ट ऑफिस सीनियर सिटीजन स्कीम ( POSCS ), सुकन्या समृद्धि योजना ( SSY ) जैसे कई योजनाओं में निवेश कर सकते हैं।

By: Naveen

Published: 18 Sep 2020, 03:19 PM IST

नई दिल्ली।
Post Office Schemes Interest Rates: पोस्ट ऑफिस ( Post Office Scheme ) की योजनाओं में निवेश करना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। पोस्ट ऑफिस में आपको अच्छा रिटर्न तो मिलता है, साथ ही आपके पैसे की सुरक्षा की गारंटी भी रहती है। आप पोस्ट ऑफिस बचत खाता, फिक्स्ड डिपॉजिट, रेकरिंग डिपॉजिट ( Post Office RD ), पोस्ट ऑफिस पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( POPPF ) , पोस्ट ऑफिस सीनियर सिटीजन स्कीम ( POSCS ), सुकन्या समृद्धि योजना ( SSY ) जैसे कई योजनाओं में निवेश कर सकते हैं। आइए जानते हैं पोस्ट ऑफिस की कौनसी योजना में कितना मिला रहा ब्याज।

पोस्ट ऑफिस बचत खाता
पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट में आपको 4 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है। सेविंग अकाउंट में ग्राहकों को खाते में कम से कम 500 रुपए की राशि हर वक्त रखनी होगी। बता दें कि इससे पहले मिनिमम बैलेंस की सीमा मात्र 50 रुपए थी। अब अगर खाते में 500 रुपए नहीं रहेंगे तो वित्तीय वर्ष के अंत में 100 रुपए की पेनल्टी लगेगी।

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट
पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट ( Post Office FD ) पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट में निवेशकों को 5.8% की दर से ब्याज मिलेगा। पोस्ट ऑफिस fixed Deposit में 1-3 वर्षों के लिए 5.5% की ब्याज दर है। 5 वर्षीय fixed Deposit पर 6.7% ब्याज दर है। इसके अलावा, पोस्ट ऑफिस में 5 साल की fixed Deposit पर निवेशकों को आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के तहत टैक्स में छूट भी मिलेगी।

Post Office ग्राहकों को बड़ी राहत, अब PPF, NSC, KVP पर ऐसे मिलेगा क्लेम, जानें नये नियम

पब्लिक प्रोविडेंट फंड पोस्ट
ऑफिस की पब्लिक प्रोविडेंट फंड में जमा राशि पर सालाना 7.1 फीसदी की दर से ब्याज मिल रहा है। इसमें व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम 500 रुपये और अधिकतम 1.5 लाख का निवेश कर सकते हैं। स्कीम में पैसे जमा आप एकमुश्त राशि या 12 किस्तों में कर सकते हैं। इसमें मैच्योरिटी की अवधि 15 साल है। पीपएफ खाते में जमा राशि का इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C में डिडक्शन क्लेम की जा सकती है। इस पर मिलने वाला ब्याज पूरी तरह टैक्स फ्री है।

सुकन्या समृद्धि योजना ( SSY )
कन्या समृद्धि योजना में निवेश पर 7.6 फीसदी दर के हिसाब से सालाना ब्याज मिल रहा है।इस योजना के माता-पिता को केवल 14 साल तक निवेश करना होता है। इसके बाद 21 साल होने पर मैच्योरिटी मिल जाती है। 14 साल के बाद क्लोजिंग राशि पर 7.6 फीसदी सालाना के हिसाब से ब्याज मिलेगा। इसमें आप 250 रुपये में खाता खुलवा सकते हैं। SSY में ग्राहकों को टैक्स में छूट का फायदा भी मिलता है। हर साल मिनिमम 1000 रुपये और अधिकतम 1.5 लाख रुपये निवेश किया जा सकता है।

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट ( NSC )
नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट ( NSC ) भी एक सुरक्षित निवेश का अच्छा विकल्प है। इस योजना की मैच्योरिटी अवधि 5 साल की होती है। एनएससी पर ब्याज की मौजूदा दर 6.8% है और ब्याज वार्षिक रूप से चक्रवृद्धि है।

ICICI Home Finance: अगर खाते में है 3000 रुपये तो मिलेगा 50 लाख तक का लोन, ऐसे उठाएं फायदा

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned