PMAY : 1.75 लाख परिवारों के मकान का सपना हुआ पूरा, पीएम मोदी ने वीडियो कॉफ्रेंसिंग से कराया गृह प्रवेश

  • Pradhan Mantri Gramin Awaas Yojana : 12 हजार गांवों में 1.75 लाख घर किए गए तैयार, कोरोना काल में ज्यादा तेजी से हुआ काम
  • आमतौर पर घरों को बनाने में 125 दिन का समय लगता है, लेकिन इस बीच 45 से 60 दिन में निर्माण काम हुआ पूरा

By: Soma Roy

Published: 12 Sep 2020, 03:26 PM IST

नई दिल्ली। अपने घर का सपना हर कोई देखता है। शहरी इलाकों में रहने वाले लोगों का ये सपना पूरा करने के लिए जहां सरकार की ओर से सब्सिडी दी जाती है। वहीं ग्रामीण इलाके में रहने वालों को प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना (Pradhan Mantri Awaas Yojana) के तहत घर बनाकर दिए जाते हैं। इसी सिलसिले में पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने मध्य प्रदेश में 1.75 लाख आवासों का लोकार्पण किया। इससे लाखों परिवारों के मकान का सपना पूरा हुआ है। पीएम मोदी ने लोगों को गृह प्रवेश की बधाई देते हुए कहा कि उनके लिए अब दीवाली समेत सारे त्योहार की खुशियां दोगुनी होगी।

पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए घर पाने वाले तीन लोगों से बात भी की। उन्होंने कहा कि कोरोना काल न होता तो वे उनके बीच मौजूद होते, क्योंकि वे खुद भी उनके परिवार के एक सदस्य की तरह हैं। पीएम की ऐसी बातें सुनकर वहां के लोग खुशी से सराबोर दिखाई दिए। पीएम ने यह भी बताया कि योजना (PMAY) के तहत एक घर बनाने में औसतन 125 दिन का समय लगता है, लेकिन कोरोना काल के इस मुश्किल घड़ी को अवसर के तौर पर इस्तेमाल किया गया। नतीजतन घर 45 से 60 दिन में ही बनाकर तैयार कर दिए गए।

लाभार्थी को अपने अनुसार घर बनावने की छूट
पीएम मोदी ने बताया कि पिछले अनुभवों को देखते हुए प्रधानमंत्री आवास योजना को बिल्कुल नए रूप में पेश किया गया है। लाभार्थी के चयन से लेकर गृह प्रवेश तक में पारदर्शिता को बनाए रखने पर जोर दिया जा रहा है। घर मिलने वाले लाभार्थी को ये न लगे कि इसकी क्वालिटी में समझौता हुआ है या इसका डिजाइन सही नहीं है, इसलिए लाभार्थी को ये चीजें देखने और तय करने की छूट दी गई है। मटीरियल से लेकर निर्माण और घर के डिजाइन में भी उनकी प्राथमिक जरूरतों का ख्याल रखा जा रहा है। लाभार्थी खुद अपने घर के निर्माण कार्य की मॉनिटरिंग कर सकता है।

2 करोड़ घर बनाने का लक्ष्य
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत इस वक्त मध्य प्रदेश में 12,000 गांवों में 1.75 लाख घर तैयार किए गए हैं। योजना के तहत अभी 2 करोड़ और आवासों का निर्माण होना है। प्रधानमंत्री का लक्ष्य है कि साल 2022 मार्च तक इन कामों को पूरा कर लिया जाए। इससे करोड़ों लोगों के सिर पर छत होगी।

Show More
Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned