RBI के CMS से होगा जनता की समस्याओं का समाधान, जानिए क्या है पूरा प्रोसेस

RBI के CMS से होगा जनता की समस्याओं का समाधान, जानिए क्या है पूरा प्रोसेस

Shivani Sharma | Updated: 25 Jun 2019, 08:46:51 AM (IST) फाइनेंस

  • Reserve Bank Of India ने सोमवार को लॉन्च किया CMS
  • RBI Governor Shaktikant Das ने कहा कि यह एप्लीकेशन बैंकिंग सिस्टम में पारदर्शिता लाएगा

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ( reserve bank of india ) देश की आम जनता की समस्याओं को दूर करने के लिए एक नया एप्लीकेशन लेकर आया है, जिसमें देश की आम जनता अपनी समस्या सीधे आरबीआई ( rbi ) को बता सकती है। सोमवार को भारतीय रिजर्व बैंक ( RBI ) ने बैंकों और गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों ( NBFCs ) के खिलाफ ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराने के लिए एक एप्लीकेशन लॉन्च किया है।


सोमवार को RBI ने दी जानकारी

RBI ने सोमवार को जानकारी देते हुए बताया कि अगर आपको बैंकों से किसी भी प्रकार की समस्या तो रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया आपकी समस्याओं का खुद समाधान करेगा। RBI की वेबसाइट पर शिकायत प्रबंधन प्रणाली यानी कंप्लेंट मैनेजमेंट सिस्टम (CMS) की शुरुआत की गई है। इस एप्लीकेशन को लॉन्च करने का मुख्य उद्देश्य देश की जनता की शिकायतों को सुलझाना और उनको खुश रखना है।


ये भी पढ़ें: PradhanMantri Mudra Yojna के तहत एक साल में दोगुना हुआ NPA, 3.11 लाख करोड़ दिया गया लोन


कोई भी अपनी परेशानी दर्ज करा सकता है

RBI के इस CMS पर कोई भी कस्टमर अपनी परेशानी को दर्ज करा सकता है। इसके अलावा कोई भी पब्लिक इंटरफेस वाली किसी भी रेगुलेटेड एंटिटी जैसे कमर्शियल बैंक, शहरी सहकारी बैंक और एनबीएफसी के खिलाफ आप अपनी शिकायत को दर्ज करा सकते हैं। सरकार आपकी परेशानी का हल जल्द से जल्द ढूंढने की कोशिश करेगा।

जल्द आएगा IVR सिस्टम

आपको बता दें कि आरबीआई के इस सीएमएस को मोबाइल, लैपटॉप, डेस्कटॉप कहीं पर भी एक्सेस कर सकते हैं। इसके अलावा आप इस पर अपनी सभी शिकायतें दर्ज कर समस्याओं का समाधान कर सकते हैं। इसके अलावा आपको बता दें कि रिजर्व बैंक की योजना जल्द ही एक डेडीकेटेड इंटरेक्टिव वॉइस रिस्पॉन्स ( IVR ) सिस्टम भी पेश करने की है, ताकि शिकायतों के स्टेटस को ट्रैक किया जा सके।


ये भी पढ़ें: माइक पोम्पियो के दौरे से पहले हुवावे का बड़ा बयान, दबाव में कोई फैसला ना ले भारत


शक्तिकांत दास ने लॉन्च ती एप्लीकेशन

इस CMS को लॉन्च करते हुए RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ( Shaktikant Das ) ने कहा कि यह एप्लीकेशन बैंकिंग सिस्टम में ट्रांसपेरेंसी को लाने के लिए लॉन्च किया है। इसके अलावा एप्लीकेशन ऑटो जनरेटेड एक्नॉलेजमेंट्स के जरिए शिकायतकर्ताओं को उनकी शिकायत मिलने के बारे में सूचित करेगी। अपनी परेशानियों को बताने के अलावा शिकायतकर्ता इस पर अपना फीडबैक भी दे सकते हैं।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार,फाइनेंस,इंडस्‍ट्री,अर्थव्‍यवस्‍था,कॉर्पोरेट,म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned