बैंक केवाईसी को लेकर बड़ी राहत, अब बैंक ट्रांजेक्शन पर नहीं लगा सकेंगे रोक

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांता दास ने आज एक प्रेस वार्ता में कहा कि अब प्रॉपराइटरशिप फर्म, ऑथराइज्ड सिग्नेटरी और वैधानिक इकाइयों के लाभार्थी मालिक भी वीडियो केवाईसी सुविधा के पात्र होंगे।

By: Saurabh Sharma

Updated: 05 May 2021, 12:02 PM IST

नई दिल्ली। भारतीस रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने 'अपने ग्राहक को जानो' यानी केवाईसी अनुपालना को आसान बनाने के लिए आज कई नए उपायों की घोषणा की और कहा कि बैंक किसी भी खाते से लेनदेन पर केवाईसी अपडेट नहीं होने के कारण 31 दिसंबर तक रोक नहीं लगा सकेंगे।

यह भी पढ़ेंः- आरबीआई का हेल्थ सेक्टर को 50 हजार करोड़ का बूस्टर डोज, एसबीएफ के लिए 10 हजार करोड़ का टीएलटीआरओ

वीडियो केवाईसी सुविधा की अनुमति
आरबीआई गवर्नर शक्तिकांता दास ने आज एक प्रेस वार्ता में कहा कि अब प्रॉपराइटरशिप फर्म, ऑथराइज्ड सिग्नेटरी और वैधानिक इकाइयों के लाभार्थी मालिक भी वीडियो केवाईसी सुविधा के पात्र होंगे। साथ ही केवाईसी के पीरियॉडिक अपडेशन के लिए भी वीडियो केवाईसी सुविधा की अनुमति दी गई है।

यह भी पढ़ेंः- अडानी को हो सकता है 937 करोड़ रुपए का नुकसान, यह है सबसे बड़ी वजह

ट्रांजेक्शन नहीं लगा सकेंगे रोक
इसके अलावा बैंक इस साल 31 दिसंबर तक सिर्फ केवाईसी अपडेट नहीं होने के कारण किसी भी खाते से लेनदेन पर रोक नहीं लगा सकेंगे। श्री दास ने ग्राहकों से अपील की कि वे इस दौरान अपना केवाईसी अपडेट करा लें। साथ ही केवाईसी अपडेट करने के लिए सभी प्रकार के डिजिटल चैनलों के इस्तेमाल की अनुमति दी गई है।

यह भी पढ़ेंः- RBI Governor's Speech से पहले बाजार में तेजी, Sensex में करीब 150 अंकों का उछाल

केवाईसी के लिए इलेक्ट्रॉनिक दस्तावेज भी मान्य होंगे
आरबीआई गवर्नर ने कहा कि आधार कार्ड के आधार पर खोले गये ऐसे बैंक खाते जिनमें ग्राहक और बैंक कर्मचारी आमने-सामने नहीं थे उन्हें अब तक सीमित केवाईसी खातों की श्रेणी में रखा गया था। अब ऐसे सभी खाते पूर्ण केवाईसी अनुपालित श्रेणी में आयेंगे। केवाईसी के लिए इलेक्ट्रॉनिक दस्तावेज भी मान्य होंगे। डिजिलॉकर से जारी पहचान के दस्तावेजों को भी वैध पहचान पत्र माना जायेगा।

reserve bank of india reserve bank of india news rbi
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned