खुशखबरी! SBI खाते में न्यूनतम बैलेंस चार्ज में इतने फीसदी हुर्इ कटौती

अब इस कटौती के बाद से अपने एसबीआइ खाते में न्यूनतम बैलेंस न रखने वालों को पेनाल्टी के तौर पर काफी कम रकम देनी होगी।

By: manish ranjan

Published: 13 Mar 2018, 12:06 PM IST

नर्इ दिल्ली। भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआइ) में खाते रखने वालों के लिए एक खुशखबरी है। एसबीआइ ने न्यूनतम बैलेंस रखने वाले लोगों के लिए एक बड़ी राहत दी है। एसबीआइ ने फैसला लिया है कि अब खाते में न्यूनतम बैलेंस नहीं रखने पर लगने वाली पेनाल्टी को 75 फीसदी तक कम कर दिया जाएगा। इस फैसले से लगभग 25 करोड़ उपभोक्ताआें काे फायदा होगा। अब इस कटौती के बाद से अपने एसबीआइ खाते में न्यूनतम बैलेंस न रखने वालों को पेनाल्टी के तौर पर काफी कम रकम देनी होगी।


पहले इतना देना होता था पेनाल्टी

इसके पहले एसबीआइ मे मेट्रो और शहरी क्षेत्रों के खाताधारकों के खातों पर न्यूनतम बैलेंस नहीं रखने पर प्रति माह 50 रुपए देना पड़ता था। लेकिन बैंक ने अब इसमें 75 फीसदी तक कटौती करके मात्र 15 रुपए प्रतिमाह कर दिया हैं। जबकि अर्द्धशहरी आैर ग्रामीण क्षेत्रो में के खाताधारकों के खाते पर लगने वाली पेनाल्टी 40 रुपए प्रति माह थी। अब इसे कम करके अर्द्ध शहरी क्षेत्रों के लिए 12 रुपए आैर ग्रामीण क्षेत्रों के लिए 10 रुपए कर दिया गया हैं। इसमें जीएसटी के तौर पर ली जाने वाली रकम भी शामिल है।


एक अप्रैल से होगा लागू

बैंक ने कहा है कि ये कटौती आगामी एक अप्रैल से लागू होगी। फिलहाल मेट्रो शहरों में एसबीआइ खातें में न्यूनतम 3000 रुपए रखना होता है पहले इन खातों पर न्यूनतम बैलेंस 5000 रुपए रखना होता था जिसे बाद में एसबीआइ ने घटा दिया था। वहीं अर्द्ध शहरी खातों में न्यूनतम बैलेंस 2000 रुपए रखना होता है। ग्रामीण क्षेत्रों के बैंक खातों में न्यूनतम बैलेंस की सीमा एक हजार रुपए है। अपने खाते में इतनी राशि ने रखने पर बैंक आपसे पेनाल्टी चार्ज करता है। एसबीआइ ने इसी पेनाल्टी को 75 फीसदी तक कम कर दिया है।


क्या है माैजूदा नियम

माैजूदा नियमों के हिसाब से आपको मेट्रो शहरों 50 फीसदी से कम न्यूनतम बैलेंस रखने पर पेनाल्टी के तौर पर 30 रुपए लिए जाते हैं जिसके बाद इसमें जीएसटी भी जोड़ा जाता हैं। एक अप्रैल से इन नर्इ दरों के लागू होने के बाद आपको न्यूनतम बैलेंस न रखने पर बहुत कम पेनाल्टी देना होगा। ये आपके अर्द्ध शहरी आैर ग्रामीण क्षेत्रों के बैंक खातों पर भी लागू होगा। आपको पता हो कि अपने खाते में न्यूनतम बैलेंस न रखने पर आपके खाते में मौजूद रकम के हिसाब से ही आप पर पेनाल्टी लगता हैं।

Show More
manish ranjan Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned