इस सरकारी बैंक से हटा कोरोना का साया, दोगुना हो गया मुनाफा

  • इंडियन बैंक का तीसरी तिमाही में 514.28 करोड़ रुपए के साथ दोगुना से अधिक हो गया मुनाफा
  • तीसरी तिमाही में आय बढ़कर 11,421.34 करोड़ रुपए पर पहुंची, पिछले साल थी 6,505.62 करोड़ रुपए

By: Saurabh Sharma

Updated: 22 Jan 2021, 06:07 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का साया सरकारी बैंकों से छंटता हुआ दिखाई दे रहा है। तीसरी तिमाही के नतीजे कुछ ऐसा ही बयां कर रहे हैं। देश का सरकारी बैंक इंडियन बैंक का मुनाफा दिसंबर, 2020 में दो गुना हो गया। खास बात तो ये है कि आय भी पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही के मुकाबले दोगुना हो गई। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर इंडियन बैंक की ओर से किस तरह के आंकड़ें दिए हैं।

यह भी पढ़ेंः- किसान आंदोलन के बावजूद रिकॉर्ड स्तर पर हुई फसलों की बुवाई, आंकड़े दे रहे हैं कुछ इस तरह दुहाई

photo_2021-01-22_17-54-58.jpg

मुनाफा और आय के आंकड़ें
- चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में इंडियन बैंक का मुनाफा 514.28 करोड़ रुपए के साथ दोगुना से अधिक हो गया।
- इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में बैंक ने 247.16 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था।
- आलोच्य तिमाही के दौरान उसकी कुल आय बढ़कर 11,421.34 करोड़ रुपए पर पहुंच गई।
- इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 6,505.62 करोड़ रुपए आय देखने को मिली थी।

यह भी पढ़ेंः- रिकॉर्ड लेवल से 1300 अंक टूटा शेयर बाजार, निवेशकों को दो दिन 5.5 लाख करोड़ रुपए का नुकसान

जीएनपीए और एनएनपीए का आंकड़ा
- तिमाही के दौरान बैंक का ग्रास एनपीए बढ़कर कुल ऋण का 9.04 फीसदी हो गया।
- जबकि एक साल पहले समान अवधि में जीएनपीए 7.20 फीसदी था।
- समीक्षाधीन अवधि में बैंक का नेट एनपीए घटकर 2.35 फीसदी रह गया।
- इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 3.50 फीसदी देखने को मिला था।
- तिमाही के दौरान उसने डूबे कर्ज और अन्य आकस्मिक खर्च के लिए 2,314.35 करोड़ रुपए का प्रावधान किया।
- पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में ऐसे 1,529.26 करोड़ रुपए के प्रावधान करने पड़े थे।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned