देश के बजट से ज्यादा है इन तीन कंपनियों के पास दौलत

  • रिलायंस, टीसीएस और एचडीएफसी का कुल मार्केट कैप 32 लाख करोड़ रुपए से है ज्यादा
  • वित्त वर्ष 2020-21 में केंद्र सरकार का बजटीय खर्च का अनुमान था 30.32 लाख करोड़ रुपए

By: Saurabh Sharma

Updated: 18 Jan 2021, 11:13 AM IST

नई दिल्ली। आपको एक बात जानकर काफी हैरानी होगी कि देश के तीन समूहों के पास जितनी दौलत है उससे कहीं ज्यादा कम देश को चलाने के लिए सरकार का बजट होता है। जी हां, इस बात को साबित करने के लिए जो आंकड़े सामने हैं वो काफी चौंकाने वाले हैं। देश के तीन कंपनी टीसीएस टाटा, एचडीएफसी और रिलायंस का मार्केट कैप 32 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा है जबकि देश का बजट 31 लाख करोड़ रुपए भी नहीं है। यह तुलना वित्त वर्ष 2020-21 के बजट से की जा रही है। कोरोना काल में इन तीनों ही समुहों की तदौलत में बेतहाशा इजाफा देखने को मिला है। आइए आपको आंकड़ों से समझने का प्रसास करते हैं।

देश के बजट से ज्यादा है समूहों के पास दौलत
देश की तीन कंपनियों की दौलत केंद्र सरकार के बजट से ज्यादा है। भारत की तीन कंपनियों की बाजार पूंजी 32 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा है, जबकि वित्तवर्ष 2020-21 में केंद्र सरकार के खर्च का बजटीय अनुमान 30.42 लाख करोड़ रुपए है। मार्केट कैपिटलाइजेशन यानी बाजार पूंजी के मामले में रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा कंसल्टेंसी यानी टीसीएस सर्विसेज और एचडीएफसी बैंक क्रमश: पहले, दूसरे और तीसरे पायदान पर हैं।

यह भी पढ़ेंः- 28 महीने के बाद रिकॉर्ड लेवल पर पहुंचे पेट्रोल के दाम, जानिए अपने शहर की कीमत

किस कंपनी के पास कितनी दौलत
रिलायंस इंडस्ट्रीज की बात करें तो उसका मार्केब् कैप 12.28 लाख करोड़ रुपए है, जबकि टीसीएस की बाजार पूंजी 12.13 लाख करोड़ रुपए जबकि एचडीएफसी बैंक की बाजार पूंजी 8.07 लाख करोड़ रुपए है। अगर तीनों की बाजार पूंजी को मिला दें तो यह रकम 32 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा होती है जोकि भारत सरकार के बजट से ज्यादा है।

टाटा है सबसे बड़ा ग्रुप
अगर, कंपनी समूह की दौलत बात करें तो भारत का अग्रणी कंपनी समूह टाटा बाजार पूंजी में देश में पहले नंबर पर आ गया है जबकि दूसरे नंबर पर एचडीएफसी समूह और तीसरे नंबर पर रिलायंस है। टाटा कंपनी समूह की बाजार पूंजी करीब 17 लाख करोड़ रुपए है जबकि एचडीएफसी समूह की करीब 15 लाख करोड़ रुपए आंकी जा रही है।

क्या कहते हैं जानकार
केडिया एडवायजरी के डायरेक्टर अजय केडिया ने बताया कि टाटा समूह का प्रदर्शन पिछले साल से ही आकर्षक रहा है। समूह की बाजार पूंजी में बीते एक साल में करीब 42 फीसदी का इजाफा हुआ है। उन्होंने कहा कि टाटा कंपनी समूह की 28 सूचीबद्ध कंपनियों में से 18 कंपनियों का प्रदर्शन बीते महीने में काफी आकर्षक रहा है और 2021 में टाटा के शेयर के भाव में आगे तेजी की संभावना बनी हुई है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned