ब्याज को कैश की जगह गोल्ड में दे सरकार: तिरुपति बालाजी मंदिर प्रबंधन

ब्याज को कैश की जगह गोल्ड में दे सरकार: तिरुपति बालाजी मंदिर प्रबंधन
tirupati balaji

Yuvraj Singh Jadon | Updated: 24 Mar 2016, 02:49:00 PM (IST) फाइनेंस

सरकार की गोल्ड मॉनेटाइजेशन स्कीम के तहत प्रिंसिपल और इंटरेस्ट को कैश में देने की बजाय गोल्ड में देने की मांग की

तिरुपति। मंदिर तिरुपति बालाजी ने सरकार की गोल्ड मॉनेटाइजेशन स्कीम के तहत प्रिंसिपल और इंटरेस्ट को कैश में देने की बजाय गोल्ड में देने की मांग की है। मंदिर प्रशासन ने इस स्कीम में तीन साल से अधिक अवधि के लिए जमा किए गए गोल्ड के बदले गोल्ड देने की मांग की है। तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम मंदिर के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर डी संबाशिव राव ने यह जानकारी दी। तिरुपति मंदिर ट्रस्ट के पास सबसे ज्यादा गोल्ड जमा है।

मंदिर ट्रस्ट के पास 7 टन गोल्ड है जिसकी कीमत 27.7 करोड़ डॉलर यानी 1855 करोड़ रुपए के आस-पास है। कुछ समय पहले मोदी सरकार ने देश में पड़े करीब 20 हजार टन सोने को उपयोग में लाने के लिए एक स्कीम शुरू की थी। गोल्ड मॉनेटाइजेशन नामक इस स्कीम को शुरुआती दौर में ज्यादा सफलता नहीं मिली। ऐसे में तिरुपति बालाजी मंदिर की इस पहल से गोल्ड स्कीम को संजीवनी मिलने की उम्मीद है।

तिरुपति बालाजी मंदिर को भगवान वेंकटेश्वर का निवास स्थान माना जाता है। यह आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में है। वैसे भी तिरुपति बाला जी मंदिर अपने भक्तों की आस्था और दान के लिए जाना जाता है। देश के नामचीन शख्सियतें हर साल तिरुपति बालाजी में दान देने जाती हैं।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned