आज सड़क दुर्घटना होने पर नहीं पहुंचेगी जीवनदायिनी 102 और 108 एंबुलेंस, तीन माह से वेतन न मिलने पर एंबुलेंस चालकों ने की हड़ताल

— पूर्व में एंबुलेंस चालकों ने किया था धरना—प्रदर्शन, श्रम विभाग में समझौता कराते हुए वेतन बढ़ाए जाने का दिया था आश्वासन।

By: arun rawat

Updated: 03 Jan 2020, 11:59 AM IST

फिरोजाबाद। फिरोजाबाद में जीवनदायिनी 102 और 108 एंबुलेंस सेवा चालकों ने बंद कर विरोध प्रदर्शन किया। चालकों ने तीन महीने से वेतन न दिए जाने का आरोप लगाया। वहीं पूर्व में हुई हड़ताल के दौरान श्रम विभाग के अधिकारियों द्वारा मानदेय बढ़ाकर दिए जाने का आश्वासन दिया था लेकिन उस पर भी कोई अमल नहीं किया गया। आज यदि कहीं कोई दुर्घटना हो गई तो एंबुलेंस मौके पर नहीं पहुंचेगी।

काली पट्टी बांधकर जताया विरोध
फिरोजाबाद जिले के शिकोहाबाद स्थित संयुक्त चिकित्सालय में एंबुलेंस चालकों ने काली पट्टी बांधकर हड़ताल कर दी। चालक मान सिंह का कहना है कि उन्हें तीन महीने से मानदेय नहीं मिला है। उत्तर प्रदेश में करीब 19 हजार 261 चालक मानदेय के लिए परेशान हैं। वेतन बढ़ाए जाने की मांग को लेकर पूर्व में श्रम विभाग द्वारा उनका मानदेय 15 हजार कराए जाने का आश्वासन दिलाया था लेकिन बढ़ा हुआ तो दूर यहां पुराना मानदेय 8943 भी नहीं मिल पा रहा है।

नहीं जाएगी एंबुलेंस
फ़िरोज़ाबाद जिले के शिकोहाबाद जिला संयुक्त अस्प्ताल में आज जीवनदायिनी एंबुलेंस के प्रदेश मीडिया प्रभारी शरद यादव के नेतृत्व में नगर के 108 व 102 एंबुलेंस के चालक और कर्मचारियों ने संयुक्त रूप से गुरुवार को काली पट्टी बांध कर कार्य किया। सभी लोगों ने अपनी एंबुलेंस को अस्पताल परिसर में खड़ा कर कंपनी के खिलाफ विरोध किया। इस दौरान कर्मचारियों ने जीवीके कंपनी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। चेतावनी दी अगर शीघ्र ही उनकी मांगें नहीं मानी गईं तो कर्मचारी उग्र आंदलन करने को बाध्य होंगे।

Show More
arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned