भाजपा नेता की हत्या के बाद हुई शोकसभा में लगे विधानसभा उपचुनाव बहिष्कार, पलायन के पोस्टर

— थाना नारखी क्षेत्र के नगला बीच में भाजपा नेता की गोली मारकर कर दी गई थी हत्या, शोक व्यक्त करने जुटी थी भीड़।

By: arun rawat

Published: 20 Oct 2020, 10:45 AM IST

फिरोजाबाद। भाजपा नेता की हत्या के बाद हुई शोक सभा में टूंडला विधानसभा में होने वाले उपचुनाव के बहिष्कार, पलायन और यह मकान बिकाऊ है के पोस्टर चस्पा कर दिए गए। व्यापारियों ने भी अपने प्रतिष्ठान बंद रख संवेदना व्यक्त की। जानकारी होने पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा जन प्रतिनिधि भी मौके पर पहुंच गए।

यह था मामला
उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले के टूंडला में तीन नवंबर को उप चुनाव के लिए मतदान किया जाएगा। 16 अक्टूबर को भाजपा के मंडल उपाध्यक्ष दयाशंकर गुप्ता उर्फ डीके की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हत्या के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए थे। घटना के बाद परिजन और रिश्तेदारों के अलावा आस—पास के लोग शोक व्यक्त करने के लिए एकत्रित हुए थे। तभी गांव में दबंगों के भय से पलायन, चुनाव बहिष्कार और यह मकान बिकाऊ है के पोस्टर चस्पा कर दिए गए।

परिजनों ने नौकरी और मदद के लिए लगाया था जाम
भाजपा के मंडल उपाध्यक्ष की हत्या के बाद परिजनों ने नौकरी व आर्थिक मदद की मांग को लेकर जमकर हंगामा किया था। भाजपा विधायक ने मदद का आश्वासन देकर शव का अंतिम संस्कार कराया था। तहरीर पर वीरेश तोमर के विरुद्ध हत्या, देवेंद्र तोमर व नरेंद्र तोमर के विरुद्ध षडयंत्र रचने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। रविवार को पुलिस ने सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। दबंगों द्वारा हत्या करने व धमकाने को लेकर गांव से पलायन करने के साथ ही मकान बेचने व चुनाव बहिष्कार के पोस्टर लगाकर फिर से सनसनी फैला दी थी।

विधायक और महिला आयोग की सदस्य ने समझाया
जानकारी होने पर भाजपा विधायक मनीष असीजा, महिला आयोग की सदस्यत सुमन चतुर्वेदी गांव पहुंचे और परिजनों को मदद का भरोसा देकर पोस्टर हटवाए। परिजन लगातार धमकी देने की बात कह रहे थे। सीओ देवेंद्र कुमार भी मौके पर पहुंच गए और परिवार को सुरक्षा देने के साथ ही हत्यारोपितों को सख्त से सख्त सजा दिलाने का भरोसा दिया। हत्या कांड के विरोध में नगला बीच के व्यापारियों ने बाजार बंद कर दिया। व्यापारियों का कहना था कि व्यापारी अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। आरोपितों को कड़ी सजा दी जाए।

Show More
arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned