हाथरस की घटना ने झकझोर दिया सुहागनगरी वासियों का दिल, जताया गया रोष

- दुष्कर्म के बाद क़ी गई हत्या को लेकर निकाला गया कैंडल मार्च

By: arun rawat

Published: 30 Sep 2020, 06:06 PM IST

फिराजाबाद। हाथरस में दलित समाज की बेटी के साथ हुई हृदय विदारक घटना ने सुहागनगरी वासियों के दिल को झकझोर कर रख दिया है। जिले भर में लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इतना ही नहीं कैंडल मार्च निकालकर उसकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की जा रही है। शहरवासियों ने आरोपियों को कड़ी सजा दिलवाने की मांग की है।

सपा महिला सशक्तीकरण ने निकाला कैंडल मार्च
हाथरस में हुए रेप कांड के हत्या को लेकर प्रदेश में विरोध प्रदर्शन का दौर शुरू हो गया है। इसी कड़ी में समाजवादी पार्टी के बैनर तले पार्टी की महिला कार्यकर्तओं ने कैंडल मार्च निकाला और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। विरोध प्रदर्शन के दौरान महिलाओं का आरोप है कि प्रदेश में अपराधी बेखोफ हो चुके हैं और महिलाएं अपने आप को असुरिक्षत महसूस करने लगी हैं। हाथरस मामले को लेकर फिरोजाबाद जिले की हर तहसील और ब्लॉक में लगातार विरोध बढ़ता जा रहा है जगह जगह लोगों ने कैंडल मार्च निकालकर घटना का विरोध जताया साथ ही आरोपियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई को लेकर भी सरकार से मांग की गई।

युवा वाल्मीकि समाज ने निकाला कैंडल मार्च
युवा वाल्मीकि समाज के पदाधिकारियों ने कैंडल मार्च निकालकर विरोध जताया। टूंडला नगर के स्टेशन रोड पर समाज के लोगों ने सरकार के विरोध में नारेबाजी करते हुए दलित समाज की बेटी को श्रद्धांजलि अर्पित की। लोगों के चेहरों पर गुस्सा साफ नजर आ रहा था। उन्होंने हत्यारोपियों को कड़ी सजा दिलवाने की मांग की।

कांग्रेसियों ने जताया विरोध
सूचना का अधिकार टास्क फोर्स की बैठक में जिला चेयरमैन डॉ. बीएस गौतम ने कहा कि भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था पूर्ण रूप से ध्वस्त हो चुकी है। महिलाएं अपने आप को असुरक्षित महसूस करने लगी हैं। सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या भाजपा का बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा केवल दिखावटी नजर आता है। अनिल उपाध्याय ने कहा कि प्रदेश सरकार अपराधों को रोकने में नाकाम साबित हो रही है। उन्होंने राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की। कांग्रेसियों ने परिवारीजनों को 50 लाख और परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी दिलवाने की मांग की।

arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned