बेटी ने निभाया बेटे का फर्ज, माता—पिता की चिता को दी मुखाग्नि

— फिरोजाबाद के शिकोहाबाद क्षेत्र में माता—पिता की मौत के बाद बेटी ने उनका अंतिम संस्कार किया।

By: arun rawat

Published: 10 Jun 2021, 03:30 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
फिरोजाबाद। उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में माता—पिता की मौत के बाद बेटी ने बेटे का फर्ज अदा करते हुए दोनों का अंतिम संस्कार किया। उनकी चिंता को आग दी तो पूरे गांव के लोगों की आंखों के आंसू नहीं थमे। दरअसल अंतिम संस्कार करने वाली बेटी के कोई भाई नहीं है।
यह भी पढ़ें—

सुहागनगरी में झोलाछाप डॉक्टरों पर शिकंजा, ताबड़तोड़ छापेमारी में एक्सरा और पैथोलॉजी सेंटर सील

अस्पताल से लाते समय हुई मां की मौत
थाना शिकोहाबाद (फिरोजाबाद) के गांव फतेहपुर कटैना निवासी 60 वर्षीय राजेश्वर की शादी रामढकेली के साथ हुई थी। उनके कोई संतान न होने के कारण उन्होंने सर्वेश कुमारी के साथ दूसरी कर ली थी। दूसरी पत्नी से उनके पांच बेटियां हुईं। वर्तमान में वह दोनों पत्नियों और पांच बेटियों के साथ रहते थे।
यह भी पढ़ें—

आगरा में खड़े कैंटर में घुसी यात्रियों से भरी रोडवेज बस, चार की मौत दर्जनभर घायल


बीमार चल रही थी पत्नी
पहली पत्नी रामढकेली काफी दिनों ने बीमार चल रही थीं। राजेश्वर सिंह की भी तबियत खराब रहती थी। बुधवार को रामढकेली की तबियत खराब होने पर उन्हें अस्पताल लेकर गए। जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। शव को वापस लेकर जा रहे परिजनों ने राजेश्वर को पत्नी की मौत की बात बताई। पत्नी का शव घर पहुंचने से पहले ही राजेश्वर सिंह को हार्ट अटैक आ गया और उनकी भी मौत हो गई। अंतिम संस्कार के लिए बेटे न होने के कारण बड़ी बेटी राधा ने बेटे का फर्ज अदा करते हुए मां और पिता का अंतिम संस्कार किया। बेटियों ने बताया कि वह आगे पढ़ना चाहती हैं लेकिन पिता की मौत के बाद पता नहीं आगे क्या होगा।

Show More
arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned