कोरोना मरीज की सुबह हुई परिजनों से बात दोपहर में मौत, मोबाइल गायब—परिजनों का हंगामा

— फिरोजाबाद के कोविड अस्पताल में पांच दिन पहले भर्ती कराया गया था कोरोना संक्रमित युवक, अस्पताल कर्मियों पर पैसे मांगने का लगा आरोप।

By: arun rawat

Published: 04 May 2021, 05:18 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
फिरोजाबाद। पूरे देश में कोरोना महामारी ने हा—हाकार मचा रखा है। अपनों को ही अपनों से दूर कर दिया है। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में सामने आया है। जहां पांच दिन पहले कोरोना संक्रमित आए युवक की आज अस्पताल में मौत हो गई। परिजनों ने कर्मचारियों पर इलाज के लिए पैसे मांगने और मोबाइल गायब करने का आरोप लगाया है।
यह भी पढ़ें—

कोरोना में रिश्ते शर्मसार: बूढ़ी मां को कमरे में बंद कर भाग गए बेटा और बहू

यह हुआ मामला
फिरोजाबाद के टूंडला स्टेशन रोड निवासी कपड़ा कारोबारी की पांच दिन पहले कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आने के बाद उन्हें कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया थाा। परिजनों के मुताबिक अस्पताल में भर्ती होने के बाद से ही उनकी लगातार बात हो रहीं थीं। मंगलवार को भी उनकी सुबह फोन पर बात हुई थी। जिसमेंं उन्होंने इलाज के लिए स्टाफ द्वारा रुपए मांगने की बात परिजनों से कही थी। परिजन रुपए लेकर अस्पताल पहुंचे। जहां मोबाइल लगाया लेकिन स्विच आॅफ आ रहा था। बाद में जानकारी हुई कि उनकी मौत हो चुकी है। मौत की खबर मिलते ही परिजनों का गुस्सा सातवेंं आसमान पर पहुंच गया। परिजनों ने आरोप लगाया कि इलाज के लिए रुपए न मिलने पर उनकी हत्या की गई है। वहीं मृतक का मोबाइल गायब करने का भी आरोप लगाया है। हंगामा होने पर थाना उत्तर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने परिजनों को समझा बुझाकर मामला शांत कराया।

कुछ दिन पहले भी हुआ था हंगामा
कुछ दिन पहले भी कोविड अस्पताल में मरीज की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा किया था। मरीज की मौत की खबर परिजनों को नहीं दी गई थी। इसके बाद परिजनों ने शव को गायब करने का आरोप लगााते हुए हंगामा किया था। उस समय कई थानों का फोर्स मौके पर पहुंच गया था।

Show More
arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned