आचार संहिता का उल्लंघन पर खैर नहीं, डीएम ने दिए सख्ती से निपटने के आदेश

जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने फिरोजाबाद में पीठासीन अधिकारियों के प्रथम सत्र को संबोधित किया।

By: suchita mishra

Published: 10 Nov 2017, 10:29 AM IST

फिरोजाबाद। जिलाधिकारी नेहा शर्मा के निर्देशानुसार जनपद में आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने और उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई कियेे जाने के निर्देश दिए। इस क्रम में 369 मामलों में आचार संहिता उल्लंघन की कार्रवाई की गयी। वहीं विभिन्न थानों में तीन लोगों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज की गई।

डीएम ने एमजी काॅलेज में ली बैठक
जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने एमजी कॉलेज में नगर निगम फिरोजाबाद क्षेत्र के 439 बूथों के लिए तैनात किए गए 572 पीठासीन अधिकारियों के प्रथम प्रशिक्षण सत्र को संबोधित करते हुए निर्देश दिये। प्रशिक्षण सत्र के दौरान 23 पीठासीन अधिकारी एवं 75 प्रथम मतदान अधिकारी अनुपस्थित रहे, जिनके विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराते हुए कार्रवाई की जा रही है।

चुनाव आयोग के निर्देशों का कराएं पालन
उन्होंने कहा कि सभी को चुनाव आयोग द्वारा दिए गए निर्देश का शत प्रतिशत पालन करते हुए एक अच्छा चुनाव सम्पन्न कराना होगा। उन्होंने इसके लिए ट्रेनिंग की आवश्यकता को समझाते हुए बताया कि इस से ज्ञान बढ़ता है और ज्ञान बढ़ने से ही आत्मविश्वास की प्राप्ति होती है। आत्मविश्वास के साथ कार्य करने से निश्चित रूप से सफलता मिलती है। जिलाधिकारी ने उपस्थित सभी पीठासीन अधिकारियों को उत्साहित करते हुए कहा कि आप सभी लोग अत्यंत भाग्यशाली है कि आप को इस महान कार्य को करने का मौका मिला। सभी पीठासीन अधिकारी बूथ पर चुनाव आयोग के अधीन कार्य कर रहे हैं। बूथ पर चुनाव आयोग आंख और कान लगाए हुए है। उन्होंने कहा कि चुनाव में आपको हर प्रक्रिया का ठीक प्रकार से ज्ञान होगा, तो आप तनाव में नहीं आएंगे।

जानकारी होना बहुत जरूरी
डीएम ने कहा कि ज्ञान ही हमारा सबसे बड़ा हथियार होगा जिसमें किसी भी प्रकार की कमी नहीं आनी चाहिए। इसके लिए प्रत्येक प्रशिक्षण सत्र का शत प्रतिशत उपयोग करते हुए उत्साहपूर्वक हर चीज सीखने को कहा। उन्होंने कहा कि प्रत्येक बूथ पर पर्याप्त पुलिस बल तैनात रहेगा तथा कोई भी अराजक तत्व किसी भी दशा में चुनाव में व्यवधान नहीं पहुंचा पाएंगे। उन्होंने बताया कि चुनाव हेतु ड्रोन कैमरों की भी व्यवस्था की जा रही है चुनाव पूरी तरह से शांतिपूर्ण और निष्पक्ष कराया जाएगा। कतार में लगे लोगों तथा गलत गतिविधि करने का प्रयास करने वालों पर ड्रोन कैमरे से निगरानी रखी जाएगी।

मूलभूत सुविधाएं रहेंगी मौजूद
उन्होंने पीठासीन अधिकारियों को आश्वस्त किया कि बूथों पर खान पान एवं मूलभूत सुविधाओं की पर्याप्त व्यवस्था रहेगी। यदि किसी बूथ पर कोई समस्या हो तो पीठासीन अधिकारी तत्काल अपने सेक्टर मजिस्ट्रेट को सूचित करें। जिलाधिकारी ने पीठासीन अधिकारियों को उनकी महत्वपूर्ण भूमिका का एहसास कराते हुए उन्हें बेहतर रूप से चुनाव कराने हेतु निर्देशित किया।

suchita mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned