अगर अखिलेश यादव की रैली टूंडला में हो जाती तो रिजल्ट कुछ और होता : महाराज सिंह धनगर

उत्तर प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में भाजपा ने सात में छह सीटों पर जीत दर्ज की है।

By: Mahendra Pratap

Published: 11 Nov 2020, 11:54 AM IST

फिरोजाबाद. उत्तर प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में भाजपा ने सात में छह सीटों पर जीत दर्ज की है। टूंडला सीट उपचुनाव में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी महाराज सिंह धनगर ने हारने के बाद कहाकि, अगर समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव टूंडला में रैली करते तो हालात कुछ और हो सकते थे।

उपचुनाव के परिणाम जैसे थे वैसे ही रहे। भाजपा को छह सीटें मिली तो समाजवादी ने मल्हनी विधानसभा सीट पर अपना वर्चस्व बरकरार रखा। टूंडला विधानसभा सीट पर भी महाराज सिंह धनगर ने मतगणना के दौरान लगातार भाजपा प्रत्याशी को चुनौती देते नजर आए। मतगणना में कई बार बढ़त बनाई पर अंत में हार गए।

टूंडला सीट से हारने के बाद समाजवादी पार्टी प्रत्याशी महाराज सिंह धनगर ने कहाकि, वे अपनी तैयारी जारी रखेंगे। अभी नहीं तो 2022 में सही, वे जीतेंगे। पर जब उनसे यह सवाल पूछा गया कि अगर अखिलेश यादव या सपा के बड़े नेताओं की रैली हो जाती तो क्या रिजल्ट में कुछ फर्क पड़ता तो अपना दर्द छुपाते हुए महाराज सिंह धनगर ने मुस्कुराते हुए कहाकि, अखिलेश यादव रैली करने आते को हालात कुछ और हो सकते थे। जबकि भाजपा की पूरी सरकार ही उपचुनाव की सीटों पर रैली कर रही थी। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने इस उपचुनाव में एक भी रैली नहीं की, बस ट्विटर और प्रेस कांफ्रेंस में ही सक्रिय रहे।

BJP
Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned