लगातार हो रही बारिश में गिरा मकान, भाई-बहन का हुआ ये हाल

लगातार हो रही बारिश में गिरा मकान, भाई-बहन का हुआ ये हाल

Amit Sharma | Publish: Sep, 03 2018 09:24:29 PM (IST) Firozabad, Uttar Pradesh, India

- थाना नगला सिंघी क्षेेत्र के गांव गदलपुरा का मामला, बहन से मिलने के लिए एक दिन पहले आया था भाई।

फिरोजाबाद। लगातार हो रही बारिश के चलते एक मकान धराशाही हो गया। मलबे में दबकर भाई-बहन गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। भाई एक दिन पहले ही बहन से मिलने के लिए आया था। हादसे के ग्रामीण भयभीत हैं। कच्चे मकान में रह रहे लोगों के चेहरे पर चिंता की लकीरें खिंचने लगी हैं।

यह भी पढ़ें—

सुहागनगरी में कुछ इस तरह मना श्रीकृष्ण जन्मोत्सव का पर्व, देखें वीडियो

नगला सिंघी थाना क्षेत्र का है मामला
घटना थाना नगला सिंघी क्षेत्र के गांव गदलपुरा की है। 65 वर्षीय शिवप्यारी पत्नी स्व. गीतम सिंह गांव में बेटे भूरी सिंह के साथ रहती है। रविवार को महिला का भाई महाराज सिंह पुत्र प्योरलाल निवासी जरारा मक्खनपुर रविवार शाम को बहन के यहां आया था। देर शाम को बारिश होने के कारण यहीं रूक गया था।

यह भी पढ़ें—

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी विशेषः सुहागनगरी की जिला जेल में "देवकी" के साथ बंद हैं "बाल गोपाल", जानिए वजह

सोमवार सुबह की है घटना
सोमवार सुबह करीब 11 बजे बेटा किसी काम से बाहर चला गया था। घर में भाई-बहन बैठे हुए थे। तभी तेज आवाज के साथ मकान धराशाही हो गया और दोनों मलबे के नीचे दब गए। आवाज सुनकर आस-पास के लोगों की भीड़ मौके पर जमा हो गई। लोगों ने किसी तरह मलबा हटाकर दोनों को बाहर निकाला। दोनों की हालत गंभीर बनी हुई है। आनन-फानन में दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मौके पर पहुंचे पुत्र ने बताया कि मलबे में उनका सब कुछ बर्बाद हो गया।

ये सामान हुआ बर्बाद
करीब 11 बोरी सरसों, 16 बोरी गेहूं और कीमती कपड़ों के साथ घरेलू सामान भी मलबे में दब गया। उनकी आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं है। मेहनत मजदूरी करके वह परिवार का पालन पोषण कर रहा था। मकान गिर जाने के कारण उनके पास अब सिर छिपाने को भी जगह नहीं बची है।

 

Ad Block is Banned