शराब पीने के लिए इस हद तक गिर गया पति, पत्नी के साथ किया कुछ ऐसा, जानकर रह जाएंगे हैरान, देखें वीडियो

Dhirendra yadav | Updated: 06 Oct 2019, 03:36:18 PM (IST) Firozabad, Firozabad, Uttar Pradesh, India

फिरोजाबाद के थाना फरिहा क्षेत्र का मामला
पुलिस ने आरोपी पति को लिया हिरासत में
पूछताछ में पत्नी की हत्या करना किया स्वीकार।

फिरोजाबाद। शराबी पति ने लालच में आकर पति की ईंट से कुचलकर हत्या कर दी। उसके बाद फरार हो गया। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा कर दिया। पुलिस ने पत्नी के कान का कुंडल भी बरामद कर लिया है। हत्या में प्रयुक्त ईंट भी पुलिस ने बरामद कर ली।

ये भी पढ़ें - बारूद के ढेर पर था ये रिहायशी इलाका, पुलिस ने मारा छाता तो हुआ बड़ा खुलासा, देखें वीडियो

एसपी देहात ने किया खुलासा
एसपी देहात राजेश कुमार ने बताया कि जिला एटा थाना बागवाला के नरौर निवासी डौली पत्नी वृंदावन सिंह का शव उसके मायके नगला रंजीत से कुछ किलोमीटर दूर ईखू के जंगल में दो अक्टूबर को मिला था। हत्या में डौली के पति वृंदावन सिंह को नामजद किया गया था। एसएसपी सचिन्द्र पटेल ने घटना के खुलासे को लेकर सीओ जसराना ओपी सिंह, एसएचओ फरिहा जीपी सिंह को लगाया था।

ये भी पढ़ें - हलवाई की दुकान पर कचौड़ी खाने को लेकर हुआ ऐसा विवाद, कि मारपीट के बाद हुआ जमकर पथराव, देखें वीडियो

अवागढ़ रोड से पकड़ा आरोपी
पुलिस ने अवागढ़ रोड स्थित बसंत वैली स्कूल के पास हत्यारोपी वृंदावन सिंह को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में वृंदावन सिंह ने पत्नी डौली की हत्या करना स्वीकार लिया। एसपी ने बताया कि वृंदावन ने डौली की हत्या के बाद उसके कानों से सोने के कुंडल उतारकर जैथरा स्थित स्वर्णकार को 6800 रुपये में बेच दिए थे। उससे मिले रुपयों से उसने शराब पी थी। पुलिस ने स्वर्णकार को बेचे सोने के कुंडल भी बरामद कर लिए। आरोपी ने बताया कि वो पत्नी डौली को उसके मायके से एक अक्तूबर को अपने घर नरौरी एटा ले गया था। यहां आकर डौली ने फिर मायके जाने की जिद की तो दोपहर को ही नरौरी से नगला रंजीत लेकर चल दिया।

ये भी पढ़ें - करिश्मा कपूर की होगी फिर धमाकेदार एंट्री, किया बड़ा खुलासा

ससुराल जाने को लेकर था विवाद
शाम को रास्ते में उसने डौली की हत्या कर दी। वृंदावन सिंह ने बताया कि 2006 में परिवार के अनिरुद्ध उर्फ भूरे की हत्या में वो एवं उसके ताऊ का बेटा कैलाश जेल गए थे। 2016 में वो सजा काटने के बाद छूटे थे। इस दौरान उसके पिता झुन्नीलाल ने परिवार के चाचा की 11 बीघा जमीन डौली के नाम कर दी थी। डौली ने इसमें से साढ़े चार बीघा जमीन बेचकर अपने पिता को साढ़े आठ लाख रुपये दे दिए थे। 2016 में वो जेल से छूटा तो उसने डौली से नरौरी एटा जाकर रहने की बात कही थी लेकिन डौली ससुराल जाने को तैयार नहीं थी। इसको लेकर दोनों में विवाद था।

ये भी पढ़ें - BIG NEWS: हाईस्कूल पास को योगी सरकार दे रही 25 लाख रुपये, नोट करें आवेदन की अंतिम तारीख

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned