सवर्ण संगठन के इस प्रदेश अध्यक्ष ने आरक्षण को लेकर कही बड़ी बात, सुनकर मोदी भी रह जाएंगे हैरान

सवर्ण संगठन के इस प्रदेश अध्यक्ष ने आरक्षण को लेकर कही बड़ी बात, सुनकर मोदी भी रह जाएंगे हैरान

Amit Sharma | Publish: Sep, 04 2018 07:41:06 PM (IST) Firozabad, Uttar Pradesh, India

- एससी-एसटी एक्ट में संशोधन कराए जाने की मांग, छह सितंबर को भारत बंद करने की चेतावनी।

फिरोजाबाद। मंगलवार को एससी-एसटी एक्ट के विरोध में सवर्ण और ओबीसी वर्ग के लोगों की बैठक उपाध्याय गेस्ट हाउस पर हुई। बैठक में आरक्षण को आर्थिक आधार पर दिए जाने और एससी-एसटी एक्ट में संशोधन किए जाने की मांग की। छह सितंबर को भारत बंद के दौरान सरकार का पुरजोर विरोध करने और आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा सरकार को सबक सिखाने का संकल्प लिया गया।

यह भी पढ़ें—

बिजली विभाग लगा रहा उपभोक्ताओं को लाखों का चूना

एससी—एसटी एक्ट से होगा शोषण
अखिल भारतीय सवर्ण संगठन के प्रदेश अध्यक्ष कौशल किशोर उपाध्याय ने कहा कि एससी-एसटी एक्ट से सवर्ण और ओबीसी वर्ग के लोगों का शोषण होगा। आरक्षण से पूरे देश में गृह युद्ध जैसे हालात हो जाएंगे। इस एक्ट का मनमाने तरीके से प्रयोग कर लोगों को परेशान किया जाएगा। इससे देश की करीब 80 प्रतिशत आबादी प्रभावित होगी। सुशील पचैरी ने कहा कि जो राजनैतिक दल सबका साथ सबका विकास करने की बात कहती हैं। वह हकीकत में ऐसा करती नहीं हैं। एससी-एसटी एक्ट से सवर्ण और ओबीसी वर्ग के लोगों का शोषण होगा।

यह भी पढ़ें—

लगातार हो रही बारिश में गिरा मकान, भाई-बहन का हुआ ये हाल

वोट बैंक की हो रही राजनीति
वोट बैंक की राजनीति करने वाली पार्टियों को सबक सिखाने का काम किया जाएगा। आरक्षण जातिगत के आधार पर आर्थिक रूप सेे किया जाना चाहिए। ऐसा होने से सभी वर्गो का भला हो सकेगा। बैठक में सर्व सम्मति से छह सितंबर को होने वाले देशव्यापी भारत बंद का समर्थन करने की मांग की गई। व्यापारी वर्ग से अपने-अपने प्रतिष्ठान बंद रखने की अपील की गई। बैठक में गोपाली पंडित, नीतेश गौतम, प्रतिभा उपाध्याय, साकेत कुलश्रेष्ठ, आनंदपाल तोमर, दीपक छोंकर, निशांत उपाध्याय, अवधेश शुक्ला, मोहित शर्मा, मुकेश कौशिक, विशाल जैन, नरेन्द्र शर्मा, रमेश शर्मा, राजीव कुमार आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें—

सुहागनगरी में कुछ इस तरह मना श्रीकृष्ण जन्मोत्सव का पर्व, देखें वीडियो

Ad Block is Banned