केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ अभद्र ​टिप्पणी कर फंस गए प्रोफेसर, जमानत अर्जी खारिज होने के बाद भेजे गए जेल

— फिरोजाबाद के नामचीन एसआरके डिग्री कॉलेज में प्रोफेसर हैं शहरयार अली।

By: arun rawat

Published: 21 Jul 2021, 11:43 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
फिरोजाबाद। यदि आप भी सोशल मीडिया पर बिना कुछ सोचे समझे पोस्ट करते हैं तो एक बार इस खबर को जरूर पढ़ लिजिए। शायद इस खबर को पढ़ने के बाद आप यूं ही किसी चीज को यूं ही पोस्ट नहीं करेंगे। यूपी के फिरोजाबाद में एक प्रोफेसर सोशल मीडिया पर केंद्रीय मंत्री के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करके फंस गए हैं। कोर्ट ने उनकी जमानत अर्जी खारिज करते हुए जेल भेज दिया।
यह भी पढ़ें—

मार्च में हुआ था मुकदमा दर्ज
मार्च 2021 में फिरोजाबाद के एसआरके डिग्री कॉलेज के इतिहास के विभागाध्यक्ष शहरयार अली ने फेसबुक पर एक पोस्ट शेयर की थी, जिसमें उन्होंने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ अमर्यादित और अश्लील टिप्पणी की थी। उनकी इस पोस्ट को हुवा खान ने भी आगे बढ़ाया था। केंद्रीय मंत्री के खिलाफ अश्लील टिप्पणी को लेकर बीजेपी नेता और नामित पार्षद उदय प्रताप ने रामगढ़ थाने में प्रोफेसर शहरयार अली और हुवा खान के खिलाफ केस दर्ज कराया था।
यह भी पढ़ें—


कोर्ट से नहीं मिली राहत
इस मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए अग्रिम जमानत के लिए लोअर कोर्ट, हाईकोर्ट तक में अर्जी लगाई थी लेकिन उन्हें कहीं से भी राहत नहीं मिली थी बल्कि कोर्ट ने 15 दिन में इन्हें समर्पण करने का आदेश दिया था। अब अपर जिला जज फास्ट ट्रैक कोर्ट अनुराग शर्मा ने प्रोफेसर की जमानत अर्जी को खारिज करते हुए सुनवाई को 26 जुलाई की तिथि तय की है। इसके बाद प्रोफेसर की ओर से अंतरिम जमानत की अर्जी लगाई गई। कोर्ट ने उसे खारिज कर प्रोफेसर को जेल भेल दिया।

arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned