भारत को गोल्ड मेडल दिलाने वाले इस कोच की भूमिका में दिखेंगे अजय देवगन, बनने जा रही है फिल्म

PRABHANSHU RANJAN

Publish: Jul, 13 2018 03:36:21 PM (IST)

फ़ुटबॉल
भारत को गोल्ड मेडल दिलाने वाले इस कोच की भूमिका में दिखेंगे अजय देवगन, बनने जा रही है फिल्म

अभिनेता अजय देवगन को जल्द ही दिवंगत फुटबाल कोच सैयद अब्दुल रहीम की भूमिका को बड़े पर्दे पर निभाते देखा जाएगा। रहीम 1950 से 1963 तक भारतीय फुटबाल टीम के कोच रहे थे।रहीम के मार्गदर्शन में भारतीय फुटबाल टीम ने 1962 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था।

नई दिल्ली । भारत जैसे देश जहां क्रिकेट को लोग बस खेलते नहीं बल्कि इस खेल और इस से जुड़े खिलाड़ियों को पूजा जाता है, वहां फुटबॉल पर अजय देवगन एक फिल्म बनाने जा रहे हैं ।अभिनेता अजय देवगन को जल्द ही दिवंगत फुटबाल कोच सैयद अब्दुल रहीम की भूमिका को बड़े पर्दे पर निभाते देखा जाएगा। रहीम 1950 से 1963 तक भारतीय फुटबाल टीम के कोच रहे थे।रहीम के मार्गदर्शन में भारतीय फुटबाल टीम ने 1962 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। इसके अलावा, वह टीम को 1956 में मेलबर्न ओलम्पिक खेलों के सेमीफाइनल तक भी लेकर गए थे।


भारत में बढ़ रहें है फुटबॉल फैंस
रहीम का निधन 54 साल की उम्र में कैंसर की बीमारी की वजह से हुआ था।इस फिल्म का निर्माण जी स्टूडियो, बोनी कपूर, आकाश चावला और जोय सेनगुप्ता द्वारा किया जा रहा है। इसका नाम अभी तक तय नहीं हुआ है। अमित शर्मा द्वारा निर्देशित इस फिल्म की पटकथा व संवाद साएविन क्वाडरोस और रितेश शाह ने लिखे हैं।बोनी कपूर ने एक बयान में कहा, "विश्व के सबसे बड़े खेल फुटबाल, भारत में इसके जुनून को देखना शानदार है। फिर भी हमारी टीम महत्वपूर्ण टूर्नामेंटों में नहीं जाती है।" रहीम ने 1950 से 1963 तक भारतीय फुटबाल टीम को कोचिंग दी थी ।


महान फुटबॉल कोच थे रहीम
उन्होंने बयान में कहा, "मेरे पार्टनर आकाश चावला और जॉय सेनगुप्ता ने जब मुझे सैयद अब्दुल रहीम की सच्ची कहानी बताई, तो मैं हैरान रह गया कि कई लोगों को उनके बारे में पता नहीं है और न ही उनकी उपलब्धियों का ज्ञान है। उन्होंने एक ऐसी टीम का मार्गदर्शन किया था जिसमें चुन्नी गोस्वामी, पी.के. बनर्जी, बालाराम, फ्रांको और अरुण घोष जैसे दिग्गज खिलाड़ी थे।"अजय को इस भूमिका के लिए चुनने के बारे में बोनी ने कहा, "उनके जैसा अभिनेता ही इस किरदार के लिए सबसे सही हैं। आशा है कि फिल्म युवाओं को प्रेरित करेगा और जल्द ही भारतीय टीम विश्व कप में खेलेगी।"रहीम के मार्गदर्शन में भारतीय फुटबाल टीम ने 1962 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। इसके अलावा, वह टीम को 1956 में मेलबर्न ओलम्पिक खेलों के सेमीफाइनल तक भी लेकर गए थे।शानदार इतिहास रहा भारतीय टीम का रहीम के कोचिंग में ।

Ad Block is Banned